मेहुल चौकसी देखना चाहता था ‘बैड बॉय बिलिनियर्स’ की प्री स्क्रीनिंग, दिल्ली HC ने खारिज की याचिका

28
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली. शुकवार को दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) ने पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी मेहुल चौकसी की उस याचिका को खारिज कर दिया, जिसमें नेटफ्लिक्स (Netflix) की वेब सीरीज और डॉक्यूमेंट्री बैड बॉय बिलिनियर्स (Bad Boy Billionaires
) की प्री स्क्रीनिंग की मांग की थी. इसके अलावा डॉक्यूमेंट्री की रिलीज की भी मांग की गई है.ये आदेश न्यायमूर्ति नवीन चावला की अगुवाई वाली हाईकोर्ट की एकल न्यायाधीश पीठ ने दी.

इससे पहले बुधवार को ऑनलाइन वीडियो मंच नेटफ्लिक्स से दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा था कि वो बैड बॉय बिलिनियर्स वेब सीरीज (Web Series) इसकी रिलीज से पहले करोड़ों रुपये के पीएनबी घोटाले (PNB Scam) के आरोपी मेहुल को उपलब्ध करा सकता है.

बता दें कि पीएनबी घोटाले के आरोपी और भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी (Mehul choksi)ने नेटफ्लिक्स की आगामी वेब सीरीज ‘बैड बॉय बिलिनेयर्स’ के खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था, लेकिन शुक्रवार को उसे बड़ा झटका लगा है.

दरअसल, इस वेब सीरीज के 2 सितंबर को भारत में रिलीज होने का कार्यक्रम है.नेटफ्लिक्स पर इसके बारे में ये बताया गया है कि ये एक ऐसी डॉक्यूमेंट्री है जो भारत के सर्वाधिक कुख्यात उद्योगपतियों के लालच, फरेब और भ्रष्टाचार को बयां करती है.इसमें भगोड़ा कारोबारी विजय माल्या, नीरव मोदी के साथ-साथ सुब्रत रॉय और बी राजू रामलिंग राजू के विवादित मामलों पर प्रकाश डाला गया है.

अदालत में चोकसी का प्रतिनिधित्व कर रहे अधिवक्ता विजय अग्रवाल ने इस वेब सीरीज की रिलीज को टाले जाने का अनुरोध किया है.
बता दें कि गीतांजलि जेम्स के प्रवर्तक चोकसी और उसके भतीजे नीरव मोदी 13,500 करोड़ रुपये से अधिक के पंजाब नेशल बैंक धोखाधड़ी मामले में आरोपी हैं. चोकसी पिछले साल देश छोड़ कर भाग गया था और फिलहाल एंटीगुआ में रह रहा है.