AYODHYA मामले पर मध्यस्थता आज से

अयोध्या मामले को लेकर मध्यस्थता के जरिए सुलझाने के गठित की गई टीम आज अयोध्या जाएगी. सुप्रीम कोर्ट के जरिए बनाई गई इस कमेटी के तीनों सदस्य अयोध्या पहुचेंगे.

यह टीम स्पेशल हेलिकॅाप्टर से यहां आएगी. यहां कमेटी के सदस्य श्री श्री रविशंकर, रिटायर्ड जस्टिस कलीफुल्ला और श्रीराम पंचू पहुचेंगे. यहां बातचीत के जरिए मामले का हल निकालने की कोशिश की जाएगी.

जिला प्रशासन ने अयोध्या की अवध यूनिवर्सिटी कैंपस में मिनी सेक्रेटेरियट भी तैयार किया है. कमेटी के सभी सदस्य अवध यूनिवर्सिटी के गेस्ट हाउस में ठहरेंगे. यहां टीम के सदस्यों के लिए खास इंतेजाम किए गए हैं.

कमेटी के सदस्यों के रूकने और मध्यस्थता के लिए अलग अलग कमरे तैयार किए गए हैं. सभी को तीन दिनों तक यहां रूकना होगा.

AYODHYA मध्यस्थता- ये हैं बड़ी बातें

टाइपिस्ट रहेंगे मौजूद

मध्यस्थता कमेटी के बारे में किसी भी तरह की जानकारी सिर्फ कमेटी के सदस्य ही दे सकेंगे. मीडिया से बात करने के लिए भी वह अपनी मर्जी से बात करेंगे. वहीं प्रशासन ने मध्यस्था कमेटी के आगमन को देखते हुए पूरी तैयारी कर ली है.

मध्यस्थता के दौरान दोनों पक्षों के बीच बातचीत की जानी है. इस बातचीत के दौरान पॉइंटर भी नोट किए जाएंगे. इन पॉइंटर को नोट करने के लिए हिंदी और इंग्लिश भाषा में टाइपिस्ट भी मौजूद रहेंगे.

सुरक्षा के कड़े इंतजाम

कमेटी के सदस्यों के लिए सभी इंतजाम किए गए हैं. बातचीत के लिए आधार पर कमेटी के आगे का कार्यक्रम तय किया जाएगा. आने वाले कमेटी सदस्यों के लिए इंजिरियरिंग डिपार्टमेंट के गेस्ट हाउस में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है.

जिलानी ने लखनऊ में बुलाई बैठक 


वहीं ऑल इंडिया बाबरी मस्जिद ऐक्श कमिटी के समन्वयक जफरयाब जिलानी ने भी एक बैठक बुलाई है. लखनऊ में एक बैठक भी आयोजित की जा रही है. जफरयाब जिलानी ने बताया कि इस बैठक में अयोध्या मुद्दे को लेकर चर्चा होगी.

सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि मध्यस्था की सभी बातचीत गोपनीय रहेगी. इसे लेकर प्रशासन और सरकार ने भी सभी तैयारियां कर ली हैं.

%d bloggers like this: