मारुति सुजुकी और महिंद्रा ने उत्पादन और कार्यालय संचालन को तत्काल प्रभाव से किया बंद

नई दिल्ली, 22 मार्च (हि.स.). भारत की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने  रविवार को घोषणा की कि उसने हरियाणा स्थित गुरुग्राम और मानेसर प्लांट में अपने उत्पादन और कार्यालय संचालन को तत्काल प्रभाव से बंद कर दिया है. रोहतक में स्थित अनुसंधान एवं विकास केंद्र भी इस दौरान बंद रहेगा.

मारुति सुजुकी ने आज एक विज्ञप्ति जारी कर कहा कि गुरुग्राम के उपायुक्त अमित खत्री द्वारा शनिवार देर शाम जारी किए गए एक नोटिस के अनुसार सभी निजी, कॉर्पोरेट प्रतिष्ठानों और कारखानों को 31 मार्च, 2020 तक पूरी तरह से बंद कर दिये जाने के आदेश के आलोक में यह निर्णय लिया गया है.

कंपनी ने कहा कि कोविड-19 के प्रसार के खिलाफ अपने परिचालन में सभी अनुशंसित सावधानी बरत रही है, जिसमें स्वच्छता और स्वच्छता, तापमान की जांच, वीडियो-कॉन्फ्रेंसिंग को अधिकतम करना और संपर्क को कम करना, कर्मचारियों की यात्रा को बंद करना, कर्मचारियों को स्वास्थ्य और दूर करने के साधन और पीछा करना शामिल है.

महिंद्रा एंड महिंद्रा ने भी विनिर्माण कार्य रोका

महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड ने आज कोरोना वायरस की चिंताओं के चलते अपने नागपुर संयंत्र में विर्निमाण कार्य तत्काल प्रभाव से बंद करने की घोषणा की है. महिंद्रा ने एक बयान में कहा कि कंपनी के चाकन और कांदिविली संयंत्रों में भी उत्पादन सोमवार रात से बंद कर दिया जाएगा. कंपनी ने कहा कि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के फैलाव को लेकर चिंता के चलते हमने तत्काल प्रभाव से अपने नागपुर संयंत्र में और सोमवार रात से चाकन (पुणे) और कांदिवली (मुंबई) में विनिर्माण कार्यों को स्थगित करने का फैसला किया है.

इन दोनों कंपनियों के अलावा टाटा मोटर्स, फिएट क्रिसलर ऑटोमोबाइल ने भी 31 मार्च 2020 तक कुछ संयंत्रों में अपने उत्पादन को निलंबित कर दिया है.

हिन्दुस्थान समाचार/गोविन्द

Leave a Reply

%d bloggers like this: