शहीद लेफ्टिनेंट हवासिंह ने 1971 के युद्ध में पेश की थी शौर्य की नई मिसाल : दुष्यंत चौटाला

उपमुख्यमंत्री ने मिर्जापुर में किया शहीद लेफ्टिनेंट हवासिंह खेल स्टेडियम का उद्घाटन
खेल स्टेडियम में स्वैच्छिक कोष से इन्डोर हॉल बनवाने की घोषणा की


हिसार, 16 दिसम्बर (हि.स). उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि मिर्जापुर में जन्में शहीद लेफ्टिनेंट हवासिंह ने सन् 1971 में हुए भारत-पाक युद्ध के दौरान शौर्य व बहादुरी की नई मिसाल कायम करते हुए अंतिम सांस तक दुश्मन से लोहा लेकर सर्वोच्च बलिदान दिया. उनकी बहादुरी ने जिला हिसार ही नहीं, पूरे देश का मान बढ़ाया.

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने यह बात आज विजय दिवस पर गांव मिर्जापुर में वीर चक्र प्राप्त शहीद लेफ्टिनेंट हवासिंह की स्मृति में बने खेल स्टेडियम का उद्घाटन करते हुए कही. इस दौरान उन्होंने स्टेडियम में बने शहीद स्मारक का उद्घाटन करते हुए पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें नमन किया. उप-मुख्यमंत्री ने शहीद लेफ्टिनेंट हवासिंह वेलफेयर सोसायटी की मांग पर स्टेडियम में इन्डोर हॉल बनवाने की घोषणा की. इस अवसर पर पुरातत्व-संग्रहालय व श्रम-रोजगार राज्यमंत्री अनूप धानक एवं बरवाला विधायक जोगीराम सिहाग भी मौजूद रहे.

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि शहीद लेफ्टिनेंट हवासिंह के जीवन के बारे में पढ़कर उनकी बहादुरी व शौर्य का आभास होता है. सन् 1948 में गांव मिर्जापुर में जन्में हवासिंह ने सेकेण्ड लेफ्टिनेंट के रूप में 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में दुश्मन की दो चौकियों में घुसपैठ करते हुए छह बंकरों को तबाह किया था. इस दौरान अपनी खुखरी से उन्होंने चार दुश्मनों को मौत के घाट उतारा था. इसी युद्ध में वे मातृभूमि पर शहीद हो गए. 21 नवम्बर,1971 की रात को उनके द्वारा दिखाए गए अदम्य साहस, कर्तव्यनिष्ठा और शहादत के सम्मान में भारत के राष्ट्रपति ने उन्हें मरणोपरांत वीर चक्र से सम्मानित किया था.

इस मौके पर दुष्यंत चौटाला ने खेल समिति की मांग पर अपने स्वैच्छिक कोष से स्टेडियम में इन्डोर हॉल बनाने की घोषणा करते हुए कहा कि सरकार द्वारा खेल व खिलाड़ियों को बढ़ावा देने के लिए सभी सुविधाएं तो मुहैया करवाई जाएगी लेकिन इसका असली लाभ तभी होगा जब इस स्टेडियम से राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी निकलें.

इसके लिए उन्होंने क्षेत्र के लोगों से खेल प्रतिभाओं को बढ़ावा देने का आह्वान किया. उन्होंने कहा कि स्टेडियम बनवाना आसान है लेकिन उसका सदुपयोग करके खेल प्रतिभाओं को तराशना चुनौतीपूर्ण कार्य है. उन्होंने खेल स्टेडियम के लिए आठ एकड़ जमीन देने पर मिर्जापुर की दोनों पंचायतों के सरपंच कृष्ण बूरा व राजबीर पूनिया के प्रयासों की भी सराहना की.

बरवाला विधायक जोगीराम सिहाग ने उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला का स्वागत करते हुए कहा कि शहीद लेफ्टिनेंट हवासिंह जिला ही नहीं पूरे देश के हीरो हैं. उन्होंने उपमुख्यमंत्री से गांव मिर्जापुर सहित हलके के सभी गांवों में विकास कार्य करवाने का अनुरोध किया.

Also Read: Dushyant Chautala News Today | Dushyant Chautala Current News | Dushyant Chautala News in Hindi | Aaj Ki Taza Khabar

हिन्दुस्थान समाचार/विजय

Leave a Reply

%d bloggers like this: