मार्टिन लूथर किंग जूनियर की 57वीं पुण्य स्मृति में हजारों प्रदर्शनकारियों का मार्च

global-race-protests-washingtoल
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp
  • पुलिस की ज्यादितियों के ख़िलाफ़ अश्वेत समुदाय की न्याय की गुहार
  • लोग भयंकर गरमी में टी शर्ट पहने थे, लिखा था जार्ज फ्लायड और जान केवीस

ललित बंसल

नागरिक अधिकारों के लिए पूरे जीवन संघर्ष करने वाले मार्टिन लूथर किंग ज़ूनियर की 57वीं पुण्यतिथि पर हज़ारों लोगों ने मार्च निकाला. मार्च में शामिल लोगों ने सरकार से मांग की कि पुलिस ज्यादितियों और अश्वेत समुदाय के प्रति हिंसा पर लगाम लगे. प्रदर्शनकारियों ने हाथों में तख़्तियां और हिंसा के शिकार अश्वेत जार्ज फ्लायड और अश्वेत नेता जान लेविस के अंकित चित्र वाले टी-शर्ट पहने हुए थे. इस मार्च में सभी धर्म, जाति और नस्ल के लोग शामिल थे.

अश्वेत हिंसा पर रोक की मांग-

लिंकन मेमोरियल के सम्मुख भारी पुलिस व्यवस्था में प्रदर्शनकारी मुंह पर मास्क लगाए हुए थे. इस मौक़े पर मार्टिन लूथर किंग की पोती ने मार्टिन लूथर किंग स्मारक के सम्मुख जोशिले स्वर में मांग की कि व्यवस्था मूलक नस्लीय हिंसा पर तत्काल रोक लगाई जाए. उन्होंने भारी असंतोष व्यक्त करते हुए कहा कि अश्वेत समुदाय को हर दिन पुलिस हिंसा का शिकार होना पड़ रहा है. इस अवसर पर जार्ज फ्लायड के भाई फ़िलोनीज फलायड ने भी अश्वेत समुदाय के प्रति हिंसा की निंदा की.

इस मौके पर कई नेताओं ने क्षोभ व्यक्त करते हुए कहा कि पिछले दिनों जिस तरह मिनिया पोलिस में एक निहत्थे अश्वेत जार्ज फलायड की पुलिस कस्टडी में हत्या की गई, उसका सारे देश के जनमानस पर व्यापक असर पड़ा और लोगों ने कई राज्यों और शहरों में जुलूस निकाला. इसके बावजूद बरेओंना टेलर और जैकब ब्लेक की पुलिस के हाथों हत्या ने लोगों क्षुब्ध कर दिया है. इस मौक़े पर लोग नारे लगा रहे थे कि वे न्याय की भीख मांगने वालों को मौत के घाट उतार सकते हैं लेकिन न्याय के सपने को नहीं मिटा सकते.

अश्वेत सिने स्टार चडविक की कैंसर से मौत-

इस बीच ख़बर आई कि ‘ब्लैक पेंथर’ के सिने स्टार चडविक बोसमैन की बड़ी आंत के कैंसर से मृत्यु हो गई. इस पर समुदाय के लोगों ने संवेदना जताई. सिने स्टार चडविक मात्र 43 वर्ष के थे. वह पिछले कुछ चार वर्ष से कैंसर का उपचार करा रहे थे. चडविक ने अनेक फ़िल्मों में काम किया था. संवेदनाओं से सोशल मीडिया की सभी साइटें भरी हुई थीं.

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अश्वेत आंदोलन को लेकर पुलिस ज्यादितियों पर मीडिया को आड़े हाथों लिया. उन्होंने कहा कि वह इस मुद्दे को बढ़ा-चढ़ाकर प्रस्तुत कर रहे हैं.

हिन्दुस्थान समाचार/