इंटरनेट की जरा-सी खराबी ने लगाई 12 करोड़ चपेत, 28 कारें हो गई बुक

Computer | Hindi News.
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली. इंटरनेट जितनी ज्यादा आपको सुविधा देता है और आपके काम को आसान बनाता है. कई बार उतनी ही बड़ी मुसीबत में भी डाल देता है. इंटरनेट के कारण काफी लोगों के बैंक खाते खाली हो जाते हैं या फिर एक साथ 28 गाड़ियां ऑर्डर हो जाती है.

कारों के शौकीनों की लिस्ट में अक्सर टेस्‍ला की कारें नंबर एक पर होती है. ऐसे में बड़ी संख्‍या में लोग इसे खरीदने के लिए प्री बुकिंग भी कर देते हैं. ताकि जल्दी से जल्दी वो नए मॉडल को पा सकें.  ऐसा ही टेस्‍ला कार का शौकीन जर्मनी में भी है. वह एक नई टेस्‍ला कार खरीदना चाह रहा था. लेकिन उसके साथ जो हुआ, वह उसे महंगा पड़ गया.

टेस्ला ने जर्मनी में अपनी लेटेस्ट कार की प्री बुकिंग शुरू की थी. जिसके बाद कंपनी को तेजी से प्री बुकिंग के ऑर्डर आ रहे थे. जिसके बाद अचनक ही एक शख्स ने कंपनी की 28 कारें खरीद ली. जिसे देखकर कंपनी के कर्मचारी भी चौंक गए. लेकिन असल में इंटरनेट की कमी के कारण ऐसा हुई था.

जर्मनी का एक शख्स ऑनलाइन टेस्ला कंपनी की नई कार खरीद रहा था. सभी जरूरी जानकारी भरने और दस्तावेज अपलोड करने के बाद ग्राहक ने कन्फर्म यानी की पुष्टि करें विकल्प पर क्लिक कर दिया लेकिन उसे कार की खरीद से जुड़ी कोई जानकारी नहीं मिली.

जिसके बाद उसे लगा की शायद कार बुक नहीं हुई है. इसलिए उसने कार को बुक करने के लिए शख्स ने कन्फर्म के ऑप्शन को बार-बार दबा दिया.  इससे हर क्लिक के साथ एक नई कार की खरीद होती चली गई. जिसके बारे में उस शख्स को पता ही नहीं था. उस व्यक्ति ने 28 बार क्लिक किया जिससे 28 गाड़ियों की खरीद हो गई. सिर्फ इतना ही नहीं हर कार के साथ ही उस शख्स के अकाउंट से पैसे भी कटते चले गए.

 इस बात की जानकारी उस ग्राहक के बेटे ने दी और एक पोस्ट लिखकर बताया कि कैसे इंटरनेट की परेशानियों के कारण ऐसा हुआ. जो कि उस शख्स को काफी महंगा साबित हुआ. तकनीकी दिक्कतों की वजह से उस शख्स ने एक कार की जगह 28 कारें खरीद ली और इससे उसे करीब 12 करोड़ (1.4 मिलियन यूरो) रुपये की चपत लग गई.

बेटे के अनुसार उसके पिता अपनी पुरानी फोर्ड कार को हटाकर टेस्‍ला मॉडल 3 खरीदना चाह रहे थे. लेकिन ऑनलाइन खरीद करते समय कुछ तकनीकी खामी हो गई और उसके पिता ने बार बार क्लिक करके 28 कारें गलती से खरीद लीं. इसकी जानकारी तब हुई जब 12 करोड़ रुपये का बिल आया.