एक ही दिन में ममता के बदले सुर वैज्ञानिकों के लिए कही ये बात

हमें अपने वैज्ञानिकों पर गर्व, हम साथ खड़े हैं – ममता

कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के एक ही दिन में बोल सुधर गए. कल ही विधानसभा में ममता ने एक बयान दिया था जिसमें उन्होंने कहा था कि पीएम मोदी चंद्रयान-2 के जरिए लोगों का ध्यान आर्थिक आपदा से भटका रहे हैं एक दिन बाद उन्होंने इसरो के वैज्ञानिकों के साथ खड़े होने की प्रतिबद्धता जताई.

बता दें कि 7 सितंबर की सुबह चंद्रयान 2 चांद पर उतरने वाला था लेकिन जब लैंडर विक्रम चंद्रमा की सतह से महज 2 किलोमीटर दूर था. तब इसरो का संपर्क चंद्रयान 2 से टूट गया.

रिपोर्टस के मुताबिक मिशन का सिर्फ 5 फीसद -लैंडर विक्रम और प्रज्ञान रोवर- नुकसान हुआ है. जबकि बाकी 95 प्रतिशत -चंद्रयान-2 ऑर्बिटर- अभी भी चंद्रमा का सफलतापूर्वक चक्कर काट रहा है.

इसरो के एक वैज्ञानिक के अनुसार, लैंडर का नियंत्रण उस समय समाप्त हो गया होगा. जब नीचे उतरते समय उसके थ्रस्टर्स को बंद किया गया होगा और वो दुर्घटनाग्रस्त हो गया होगा. जिसके कारण संपर्क टूट गया.

मुख्यमंत्री ने चंद्रयान-2 का जिक्र करते हुए लिखा, “हमें अपने वैज्ञानिकों पर गर्व है. चंद्रयान-2 के लिए इसरो टीम ने कड़ी मेहनत की. वैज्ञानिक रूप से उन्नत देशों की श्रेणी में भारत के स्थान की कल्पना करने वाले हमारे संस्थापक वैज्ञानिकों ने अपने समय से काफी आगे का सपना देखा था.इस मौके पर मैं उन्हें भी याद कर श्रद्धांजलि दे रही हूं”

अपने दूसरे ट्वीट में ममता ने लिखा, “इसरो के वैज्ञानिकों ने काफी ईमानदारी से समर्पित तरीके से देश के विकास के लिए काम किया है. इस मौके पर मैं इसरो को नमन और शुभकामनाएं दे रही हूं.हम सब आपके साथ हैं.हमें आप पर गर्व है.”

एक दिन पहले ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य विधानसभा में कहा था कि चंद्रयान-2 को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार जिस तरह से प्रचार प्रसार कर रही है. वो देश की आर्थिक आपदा से ध्यान भटकाने की कोशिश है .उनके इस विवादित बयान को लेकर उनकी चौतरफा आलोचना हुई थी.

हिन्दुस्थान समाचार/ओम प्रकाश

Leave a Reply

%d bloggers like this: