चुनावी हार से मायूस हुईं Mamata Banerjee, CM पद से इस्तीफे की पेशकश की

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और TMC प्रमुख ममता बनर्जी लोकसभा चुनाव में करारी हार से काफी दुखी हैं. ममता ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने की भी पेशकश की है, जिसे पार्टी ने अस्वीकार कर दिया है.

चुनाव में मिली हार के ममता ने एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित किया, जिसमें उन्होंने बीजेपी पर वोटों का ध्रुवीकरण करने का आरोप लगाया. इस दौरान उन्होंने हार की जिम्मेदारी लेते हुए सीएम पद छोड़ने की पेशकश की. हालांकि उनकी इस पेशकश को पार्टी ने खारिज कर दिया है.

ममता ने बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि यह बड़ी जीत संदेह से परे नहीं है. यह काफी आश्चर्यजनक है कि कैसे विपक्ष का कई राज्यों में पूरी तरह से सफाया हो गया. उन्होंने बीजेपी पर विदेशी ताकतों के साथ समझौता करने का भी आरोप लगाया. ममता ने कहा कि बीजेपी ने चुनाव जीतने के लिए राज्य में आपातकाल जैसी स्थिति पैदा की, और कुछ जोड़तोड़ हैं और विदेशी शक्तियां भी इसमें शामिल हैं.

2021 में राज्य में विधानसभा चुनाव होने हैं. ऐसे में भारतीय जनता पार्टी ने जिस तरह का जबरदस्त प्रदर्शन किया है उससे मुख्यमंत्री ममता बनर्जी थोड़ा सा परेशान हुई हैं.

जीत से उत्साहित प्रदेश बीजेपी नेताओं का दावा है कि अब राज्य में ममता बनर्जी सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो गई है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के 23 सीटों के लक्ष्य के आस-पास पहुंच कर पार्टी ने 2021 में टीएमसी के वर्चस्व के लिए एक बड़ा खतरा पैदा कर दिया है.

जिस तरह से ममता बनर्जी बीजेपी नेताओं के रैलियों पर रोक लगा रहीं थीं उससे एक बात तो तय थी कि बीजेपी का प्रदर्शन अबकी बार पिछली बार से बेहतर रहेगा लेकिन यह इतना चौंकाने वाला होगा, इसकी खुद उन्होंने कल्पना तक नहीं की होगी.

%d bloggers like this: