बे-मौसम बारिश बन सकती है बीमारियों का कारण.. ऐसे करें बचाव

कल तक दिल्ली-एनसीआर के लोग चिलचिलाती धूप से परेशान हो रहे थे. आज सुबह हुई बारिश ने लोगों को गर्मी से काफी राहत दी है.

मगर इस समय ध्यान देने वाली बात है कि गर्मी के बाद बदले मौसम से खुद को बचाया जाए. ये बारिश न सिर्फ लोगों को बीमार बनाएगी बल्कि इससे होने वाला संक्रमण भी बढ़ेगा.

आज के समय में अगर खुद को बीमार होने से बचाना है तो जरूरी है कि कुछ एहतियात बरतना जरूरी होगा. इस बारिश से कुछ बीमारियों हो सकती हैं जो आपको आसानी से अपनी चपेट में ले लेंगी. हम आपको बताएंगे ऐसे टिप्स जिनका इस्तेमाल करके आप इन बीमारियों से अपना पीछा छुड़ा सकते हैं.

  • बारिश में आसानी से सर्दी जुकाम हो जाता है. इसे इन्फ्लुएंजा के नाम से भी जाना जाता है. सर्दी जुकाम में नाक और गला प्रभावित होता है. इसकी वजह से नाक, बदन दर्द, गले में खिचखिच, खांसी और बुखार जैसे लक्षण आम होते हैं.
  • जुकाम होने पर डॉक्टर से पूछ कर दवाई लें. जुकाम होने पर तरप पदार्थ लेते हुए संतुलित आहार लें. डाइट में विटामिन सी को जरूर शामिल करें. भरपूर फल और हरी सब्जियां खाएं. ऐसा करने से इम्यून सिस्टम भी स्ट्रांग होता है. ध्यान रखें की सर्दी जुकाम संक्रमण से फैलता है, ऐसे में संक्रमित व्यक्ति से भी दूर रहें.
  • इस मौसम में बाहर का अनहाईजिनिक खाना खाने से दस्त और उल्टी जैसी समस्या हो जाती है. इस मौसम में डायरिया सबसे ज्यादा परेशान करता है. डायरिया गंदा पानी और खराब क्वालिटी का खाना खाने से होता है.

इससे बचने के लिए कोशिश करें साफ-सूथरा और हाईजिनिक खाना खाएं. पानी पीने से पहले उसे उबालना न भूलें. साथ ही खाना खाने से पहले हाथ धोना न भूलें.

  • इस मौसम में फूड पॉइजनिंग का खतरा भी होता है. फूड पॉइजनिंग में पेट में दर्द, एठन, मिचली, उल्टी और दस्त की परेशानी होने लगती है. उल्टी और दस्त के कारण शरीर में पानी की कमी होती है जिससे पेशेंट को वीकनेस भी होने लगती है.

इससे निपटने के लिए साफ सुथरा खाना खाएं. हल्का खाना खाएं. हैवी फूड खाने से बचें.

%d bloggers like this: