लोकसभा की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित, आज दो बिल पास हुए

Om Birla
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

कोरोना काल के दौरान संसद के मानसून सत्र की कार्यवाही आज (सोमवार) से शुरू हो गई है. कोरोना के कारण सत्र में कई तरह के बदलाव किए गए हैं. लोकसभा में विपक्ष ने प्रश्नकाल न कराने के फैसले पर आपत्ति जताते हुए इसे लोकतंत्र का गला घोंटने वाला कदम बताते हुए विरोध दर्ज कराया.

लोकसभा की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित हो गई है. मॉनसून सत्र के पहले दिन लोकसभा में दो बिल पास हुए. होम्योपैथी के लिए राष्ट्रीय आयोग 2020 और भारत में चिकित्सा पद्धति के लिए राष्ट्रीय आयोग बनाने के लिए बिल पास हुए.

प्रश्नकाल हटाने से विपक्ष नाराज

लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि प्रश्नकाल संसद प्रणाली में होना बहुत जरूरी है. यह सदन की आत्मा है. अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि प्रश्नकाल को हटाकर लोकतंत्र का गला घोटने की कोशिश की जा रही है. असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि प्रश्नकाल और प्राइवेट मेंबर बिजनेस होना बहुत जरूरी है.

लोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही सभी दिवंगत नेताओं को श्रद्धाजंलि दी गई. इस दौरान पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को भी श्रद्धांजलि देने के बाद लोकसभा की कार्यवाही एक घंटे के लिए स्थगित कर दी गई. दोबारा से कार्यवाही शुरू होने पर विपक्ष ने चीन के साथ चल रही तनातनी, कोरोना वायरस और लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों की मौत के मामले पर विरोध दर्ज कराया.

रिहा होने के बाद सदन पहुंचे फारूख अब्दुल्ला

हिरासत से रिहा होने के बाद फारूक अब्दुल्ला पहली बार लोकसभा पहुंचे. अधीर रंजन चौधरी, सुप्रिया सुले, दयानिधि मारन और कुछ अन्य सदस्य उनसे गर्मजोशी के साथ मिलते नजर आए. कई अन्य सदस्यों ने भी एक दूसरे का अभिवादन किया.

टीएमसी सांसद ने वित्तमंत्री पर की टिप्पणी

संसद के पहले दिन ही टीएमसी सांसद सौगत रॉय ने वित्तमंत्री निर्मल सीतारमण के पहनावे पर टिप्पणी की, जिसके बाद हंगामा खड़ा हो गया. बीजेपी सांसदों ने टीएमसी सांसद से बिना शर्त माफी मांगने की मांग की. वहीं हंगामा को शांत करने के लिए लोकसभा अध्यक्ष ने सौगत रॉय के बयान को कार्यवाही से हटाने का आदेश दिया.