कानपुर: लॉकडाउन में नहीं रहेगा कोई भूखा, गरीबों को मिल रहा मुफ्त राशन

कोरोना को देखते हुए पीएम मोदी ने पूरे देश में 21 दिनों तक यानी 14 अप्रैल तक लॉकडाउन घोषित कर रखा है. लॉकडाउन के वक्त कोई भी भूखा नहीं सोये इसके लिए केंद्र और राज्य सरकारें कई तरह की योजनाएं चला रही हैं. यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने साफ कहा है कि प्रदेश में किसी की भी भूख की वजह से मौत नहीं होने देंगे.

सीएम योगी ने लोगों को सीधी मदद देने का वादा किया. इसके तहत योगी आदित्यनाथ की सरकार ने 35 लाख मजदूरों को तुरंत 1000 रुपए देने का फ़ैसला किया. मुफ्त अनाज के तहत 1 लाख 65 हजार बीपीएल लोगों को 20 किलो चावल और 15 किलो गेहूं देने की भी घोषणा की गई है.

सरकार ने प्रत्येक गरीब परिवार को सस्ता एवं मुफ्त राशन उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी सरकारी राशन डीलरों को सौंपी है. लॉकडाउन के वक्त भी राशन डीलर सुबह 6 बजे से रात 9 बजे तक दुकान खोल सकते हैं. ताकि सभी को आसानी से राशन मिल सके. इसके अलावा राशन बांटते वक्त सोशल डिस्टेंसिंग का भी पूरा ख्याल रखने का निर्देश दिया गया है.

कानपुर में बुधवार सुबह से ही सरकारी राशन की दुकान के बाहर राशन लेने के लिए लगी लोगों की भीड़ लग गई. इस दौरान कई जिलों में राशन की दुकान पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन जबकि कहीं रही भीड़ दिखी. राशन देने से पहले उपभोक्ता के हाथों को सैनिटाइज कराने का निर्देश दिया गया है.

इनको मिलेगा नि:शुल्क राशन

अंत्योदय कार्डधारकों, नरेगा मजदूरों, श्रम विभाग में पंजीकृत श्रमिकों व नगर विकास विभाग के दिहाड़ी मजदूरों को नि:शुल्क राशन दिया जाएगा. यदि किसी व्यक्ति, परिवार, समुदाय, कस्बा या कॉलोनी को होम क्वारांटाइन किया गया है तो उस तक होम डिलीवरी के माध्यम से राशन पहुंचाने की सुविधा दी जाएगी.

राशन डीलर ने बीमा कवर देने की मांग की

कल्याणपुर ब्लॉक के सोना ग्रामसभा में ग्राम समिति अध्यक्ष आशीष मिश्रा ने नियानुसार गरीबों में राशन काै वितरण कराया. इस दौरान राशन डीलर ज्ञान सिंह ने सरकार से राशन डीलरों के लिए बीमा कवर देने की मांग की. उन्होंने कहा कि ये महामारी लोगों के संपर्क में आने से फैलती है, लेकिन आपातकाल के इस दौर में भी जो लोग अपने कार्य को ईमानदारी के साथ कर रहे हैं उन्हें बीमा कवर मिलना चाहिए.

Leave a Reply

%d bloggers like this: