राम मंदिरः भूमि पूजन कार्यक्रम से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जुड़ेंगे आडवाणी-जोशी

Advani-Joshi
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

राम मंदिर के भूमि पूजन कार्यक्रम के लिए सारी तैयारियां हो चुकी हैं. कल यानी बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों भूमि पूजन कार्यक्रम सम्पन्न किया जाएगा. इस कार्यक्रम में देश भर के प्रमुख साधु-संतों और राम मंदिर आंदोलन से जुड़े नेताओं को निमंत्रण भेजा गया है.

इस कार्यक्रम में बीजेपी के वरिष्ठ नेता और राम मंदिर आंदोलन के नेतृत्वकर्ता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी भी शामिल होंगे. हालांकि कोरोना महामारी को देखते हुए दोनों ही वरिष्ठ नेता वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कार्यक्रम से जुड़ेंगे.

इसके अलावा यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता कल्याण सिंह भी वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कार्यक्रम में शामिल होंगे. ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि आडवाणीजी और जोशी जी दोनों से फोन पर बात की गई. उन्हें निमंत्रण नहीं भेजा गया है, उन्होंने खुद आने में असमर्थता जताई है. हमने आयु की वजह से यूपी के पूर्व सीएम कल्याण सिंह से भी न आने का आग्रह किया है.

वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने कार्यक्रम से दूर रहने का फैसला किया है. उन्होंने कोरोना के चलते ये फैसला लिया है. उमा भारती कार्यक्रम के वक्त अयोध्या में सरयू के किनारे रहेंगी, और कार्यक्रम समाप्त होने के बाद रामलला के दर्शन करने जाएंगी.

उमा ने कहा कि वो ऐसा कोरोना के कारण कर रही हैं. उन्होंने कहा कि कार्यक्रम में प्रधानमंत्री जी आ रहे हैं. ऐसे में वहां ज्यादा भीड़ एकत्र करने की जरूरत नहीं है. अमित शाह भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं, ऐसे में प्रधानमंत्री जी की सुरक्षा को देखते हुए उन्होंने ये फैसला लिया है. सभी आमंत्रित सदस्य अयोध्या पहुंच जाएंगे.

कार्यक्रम में शामिल होने के लिए RSS प्रमुख डॉ. मोहन भागवत भी आज शाम को अयोध्या पहुंचेंगे. RSS नेता भैयाजी जोशी भी आज रात अयोध्या पहुंच जाएंगे. इस कार्यक्रम में बाबरी मस्जिद के पैरोकार इकबाल अंसारी को भी न्योता भेजा गया है. इकबाल ने खुद इसकी जानकारी दी है. और कार्यक्रम में शामिल होने की बात कही है.