ELECTION 2019
ELECTION 2019

नई दिल्ली. देश में 2019 की सबसे बड़ी चुनावी जंग के लिए बिगुल बज चुका है. लोकसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान होते ही देश में आचार संहिता लागू हो गई है.

इस बार सात चरणों में आम चुनाव होंगे. 11 अप्रैल को पहले चरण के लिए वोट डाले जाएंगे तो वहीं 23 मई को नतीजे आएंगे. 27 मई को चुनावी प्रक्रिया पूरी हो जाएगी.

बिहार में लोकसभा के चुनाव सात चरणों में होंगे यानी प्रदेश की 40 लोकसभा सीटों के लिए सभी फेज में वोटिंग होगी. राजनीतिक दृष्टि से बिहार की सियासत बेहद अहम मानी जाती है.

इस बार के चुनाव में देश के तीन बड़े राज्य उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और बिहार में सातों चरण में मतदान प्रक्रिया संपन्न होगी. माना जा रहा है कि बड़े राज्य होने के साथ-साथ कानून व्यवस्था के मद्देनजर चुनाव आयोग ने यहां वोटिंग सात चरण में कराने का फैसला लिया है.

बिहार- बिहार में इन चरणों में होगी वोटिंग

11 अप्रैल (पहला चरण)
औरंगाबाद, गया, नवादा और जमुई

18 अप्रैल (दूसरा चरण)
किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, भागलपुर, बांका

23 अप्रैल (तीसरा चरण)
झंझारपुर, सुपौल, अररिया, मधेपुरा, खगड़िया

29 अप्रैल (चौथा चरण)
दरभंगा, उजियारपुर, समस्तीपुर, बेगूसराय, मुंगेर

6 मई (पांचवा चरण)
सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, सारण, हाजीपुर

12 मई (छठा चरण)
वाल्मीकिनगर, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, शिवहर, वैशाली, गोपालगंज, सीवान और महाराजगंज

19 मई (सांतवा चरण)
नालंदा, पटना साहिब, पाटलिपुत्र, आरा, बक्सर, सासाराम, काराकट, जहानाबाद

एक महीने से अधिक समय तक चलने वाले चुनाव कार्यक्रम में पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को, जबकि आखिरी एवं सातवां चरण का मतदान 19 मई को होगा.