राष्ट्रपति, अमित शाह, राहुल गांधी समेत इन नेताओं ने Tweet कर बढ़ाया वैज्ञानिकों का हौसला, कही ये बात

नई दिल्ली. भारत के चंद्रयान-2 मिशन को शनिवार तड़के उस समय झटका लगा, जब लैंडर विक्रम से चंद्रमा के सतह से महज 2 किलोमीटर पहले इसरो का संपर्क टूट गया.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत कई बड़े राजनेताओं ने वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ाया.

देश को इसरो पर गर्व है. लैंडर से संपर्क टूट जाने के ऐलान से कुछ मिनट पहले सिवन ने पीएम को ये जानकारी दी. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर कहा , चंद्रयान 2 मिशन के साथ इसरो की समूची टीम ने असाधारण प्रतिबद्धता और साहस का प्रदर्शन किया है. राष्ट्रपति ने कहा कि हम सभी सर्वश्रेष्ठ की उम्मीद करते हैं.

पीएम मोदी ने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के वैज्ञानिकों से कहा है कि देश को उन पर गर्व है. पीएम ने लैंडर से संबंधित घटनाक्रम के संदर्भ में आज राष्ट्र को संबोधित किया.

पीएम ने वैज्ञानिकों से कहा कि वो निराश ने हों और सर्वश्रेष्ठ के लिए उम्मीद करें. राष्ट्रपति ने ट्वीट कर कहा देश को इसरो के वैज्ञानिकों पर गर्व है.

गृह मंत्री अमित शाह ने भी ट्वीट कर इसरो के वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ाया. भारत इसरो के अपने प्रतिबद्ध एवं अथक परीश्रम करने वाले वैज्ञानिकों के साथ खड़ा है. इसरो की भविष्य की योजनाओं के लिए मेरी शुभकामनाएं.

अमित शाह ने शनिवार को कहा कि चंद्रयान-2 को चंद्रमा के सतह के करीब पहुंचाने की इसरो की कोशिशों से हर भारतीय गौरवान्वित है.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर इसरो की टीम को बधाई दी. उन्होंने ट्वीट किया, ‘चंद्रयान 2 मून मिशन पर आपके अविश्वसनीय काम के लिए टीम इसरो को बधाई. आपका जुनून और समर्पण हर भारतीय के लिए एक प्रेरणा है.आपका काम व्यर्थ नहीं जाएगा.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने भी इस संबंध में ट्वीट किया. उन्होंने लिखा कि पूरा देश वैज्ञानिकों के साथ है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि विक्रम लैंडर से संपर्क टूट जाने के बाद भी चंद्रयान-2 मून मिशन में इसरो के वैज्ञानिकों ने बेहतरीन कार्य किया.

Leave a Reply