Labour Day पर जानिए मजदूर से जुड़ी हर स्कीम के बारे में, मिलेगें कई फायदे

LABOUR
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली. किसी भी देश की तरक्की वहां के किसानों-कामगारों, कर्मचारी और मजदूर पर निर्भर  होती है. शायद इसलिए कहा जाता है कि दुनिया को चलाने को चलाने में मुख्य भूमिका मजदूरों की होती है. इसलिए मजदूरों को सम्मान देने के लिए 1 मई को दुनियाभर में  मजदूर दिवस मनाया जाता है. आज इस मौके पर हम आपको उन योजनाओं के बारे में बताने जा रहे हैं, जो कि सरकार ने मजदूरों और गरीबों के लिए शुरू की है.

Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana AB-PMJAY

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल 2018 में दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना आयुष्मान भारत की शुरुआत की थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे गुजर—बसर करने वाली देश की बड़ी आबादी को हर साल पांच लाख तक के नि:शुल्क इलाज की सुविधा दी जाती है. खासकर गरीब, मजदूर परिवारों के लिए यह योजना किसी वरदान से कम नहीं है.केंद्र सरकार इस योजना के तहत देश के 10 करोड़ परिवारों को सालाना 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध करा रही है.

Manrega Yojna

यह केंद्र सरकार के द्वारा चलायी गयी प्रमुख योजना है, इस योजना का मुख्य उद्देश्य मजदूरों को काम देना, ग्राम का विकास और ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को रोजगार प्रदान करना है, इस योजना के द्वारा ग्राम को शहर के अनुसार सुख-सुविधा प्रदान करना है, जिससे ग्रामीणों का पलायन रुक सके . मनरेगा योजना में मजदूरों लोगों को अपने परिवेश में ही रोजगार प्राप्त हो जाता है, केंद्र सरकार ने इस योजना के अंतर्गत 100 कार्य दिवस के रोजगार की गारंटी दी है 

Pradhan Mantri Shram Yogi Mandhan Yojana

प्रधानमंत्री श्रम योगी मान-धन योजना असंगठित क्षेत्र के कामगारों और मजदूरो के लिए है. इनमें घर में काम करने वाले, निर्माण कार्य करने वाले मजदूर, कूड़ा बीनने वाले, बीड़ी बनाने वाले, हथकरघा, रेहड़ी लगाने वाले दुकानदार, ड्राइवर, प्लंबर, दर्जी, मिड-डे मील वर्कर, रिक्शा चालक, कृषि कामगार, मोची, धोबी, चमड़ा कामगार इत्यादि शामिल हैं.

इस योजना में शामिल लोगों को 60 साल की उम्र से 3,000 रुपये की मासिक पेंशन मिलेगी. व्यक्ति पेंशन खाते में जितना योगदान करेगा, उतना ही योगदान सरकार की ओर से भी किया जाएगा. इसमें पारिवारिक पेंशन का भी प्रावधान है. जीवनसाथी की असमय मौत पर यह प्रावधान लागू है