बजट से पहले जानिए Nirmala Sitharaman से जुड़ी ये खात बातें

नई दिल्‍ली. मोदी सरकार आज अपने दूसरे कार्यकाल का पहला बजट आज पेश करने जा रही हैं. पूरे देश ने अपनी निगाहें इस बजट पर टिका रखी हैं.देश के हर तबके ने अपने लिए कुछ खास की उम्मीद इस बजट से लगा रखी है.

निर्मला सीतारमण के लिए ये बजट उतना भी आसान नहीं होने वाला है.ऐसा इसलिए क्योंकि देश में मॉनसून का लेट आना, किसानों कि फसल का नुकसान होना और देश की अर्थव्यवस्था की रफ्तार धीमी होना.इन सभी के लिए कुछ न कुछ खास वित्त मंत्री को अपने बजट में लेकर आना होगा.

खास वित्त मंत्री सीतारमण किसे के लिए क्या खास लेकर आती हैं.इसका पता तो बजट में ही चल पाएगा.तो आईए इस बजट से पहले जानते हैं वित्त मंत्री सीतारमण से जुड़ी कुछ खास बातें –

मंत्री सीतारमण की खास बातें-

किसी वक्‍त एक सेल्‍स गर्ल के तौर पर करियर की शुरुआत करने वाली निर्मला सीतारमण फाइनेंस मिनिस्‍टर का कार्यभार संभाल रखा है और आज अपने पहले बजट को पेश करने जा रही हैं.

मोदी-2 सरकार में सीतारमण ने देश की पूर्णकालिक महिला फाइनेंस मिनिस्‍टर के रूप में काम शुरू कर इतिहास रच दिया है. क्‍योंकि, साल 1969 में इंदिरा गांधी ने पहली बार फाइनेंस मिनिस्‍टरी का पदभार भी संभाला था जब वह देश की प्रधानमंत्री थीं.

देश के इतिहास की अब तक की सिर्फ दूसरी महिला रक्षा मंत्री रहीं निर्मला सीतारमण की फिर से मोदी सरकार की कैबिनेट में वापसी हुई है. अपने पहले कार्यकाल में सीतारमण काफी ऐक्टिव रहीं और राफेल विवाद पर उन्होंने संसद और बाहर सरकार का अच्छे से डिफेंस भी किया. लेकिन बीजेपी से जुड़कर किस तरह वह मात्र 11 साल में यहां तक पहुंचीं जानिए यहां…..

निर्मला देश की पहली महिला फाइनेंस मिनिस्‍टर-

इंदिरा गांधी ने पीएम पद के साथ-साथ फाइनेंस मिनिस्‍टर का कार्यभार 16 जुलाई 1969 से 27 जून 1970 तक संभाला था, लेकिन अभी तक किसी भी महिला को फाइनेंस मिनिस्‍टर के रूप में स्वंत्रत रूप से पद नहीं मिला. इस वजह से निर्मला सीतारमण पहली महिला फाइनेंस मिनिस्‍टर बनी गई हैं.

रेलवे में थे पिता, तमिलनाडु में हुआ जन्म –

निर्मला सीतारमण का जन्म तमिलनाडु राज्‍य के एक साधारण से परिवार में 18 अगस्त 1959 को हुआ था. उनके पिता रेलवे में काम करते थे और मां घर संभालती थीं. पिता की नौकरी में बार-बार ट्रांसफर होता रहता था, जिसकी वजह से वह तमिलनाडु के कई हिस्सों में रहीं.

निर्मला सीतारमण ने जेएनयू से की पढ़ाई-

सीतारमण ने अपनी शुरुआती पढ़ाई तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली से ही की. उन्होंने ग्रेजुएशन अर्थशास्त्र में की थी. इसके बाद वह मास्टर्स डिग्री के लिए दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू यूनिर्वसिटी में आईं. इसके बाद इंडो-यूरोपियन टेक्सटाइल ट्रेड में उन्‍होंने पूरा किया अपना पीएचडी रिसर्च.

निर्मला सीतारमण लदंन में थीं सेल्स गर्ल-

पढ़ाई के दौरान और बाद भी सीतारमण ने कई जगहों पर काम किया. पति संग लंदन में रहने के दौरान निर्मला सीतारमण ने वहां एक घर का सजावटी सामान बेचने वाली दुकान में सेल्स गर्ल के रूप में भी काम किया था. बाद में वह लंदन में कृषि इंजिनियर्स असोसिएशन से जुड़ीं.

इसके बाद उन्होंने लंदन में ही प्राइस वॉटरहाउस नाम की कंपनी में सीनियर मैनेजर के रूप में काम किया. साथ ही कुछ समय के लिए वह बीबीसी से भी जुड़ीं. इसके बाद वापस भारत आने पर उन्होंने हैदराबाद में सेंटर फॉर पब्लिक पॉलिसी में डेप्युटी डायरेक्टर के रूप में काम किया.

2008 में बीजेपी किया ज्‍वाइन, बनीं प्रवक्ता-

निर्मला सीतारमण ने 2008 में राजनीति में एंट्री ली और बीजेपी जॉइन की. इसके दो साल बाद ही वह बीजेपी प्रवक्ता बन चुकी थीं. इसके बाद 26 मई़, 2014 में मोदी सरकार में उन्हें राज्य मंत्री का पद सौंपा गया. फिर 3 दिसंबर 2017 को हुए कैबिनेट बदलाव में उन्हें रक्षा मंत्री बनाया गया.

इंदिरा गांधी के बाद देश की दूसरी रक्षा मंत्री-

पिछली सरकार में रक्षा मंत्री बनते ही निर्मला सीतारमण ने एक रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया था. वह रिकॉर्ड था देश की दूसरी महिला रक्षा मंत्री बनने का. निर्मला से पहले सिर्फ इंदिरा गांधी ने अपनी सरकार में यह चार्ज लिया था. इसके बाद पूर्णकालिक फाइनेंस मिनिस्‍टर के तौर पर पदभार ग्रहण करके इतिहास रच दिया है.

निर्मला ने डा. प्रभाकर से की शादी-

जेएनयू में पढ़ाई के दौरान निर्मला की मुलाकात डा. परकाला प्रभाकर से हुई थी. वह भी वहीं पढ़ते थे. फिर बाद में दोनों ने शादी कर ली. फिलहाल दोनों की एक बेटी है.

1 thought on “बजट से पहले जानिए Nirmala Sitharaman से जुड़ी ये खात बातें”

Leave a Comment

%d bloggers like this: