अपनी 5 महीने की बच्ची को लेकर संसद पहुंची थी ये सांसद, स्पीकर ने निकाला बाहर

मां बनना किसी भी औरत की ज़िंदगी का सबसे खूबसूरत पल होता है पर हालही में केन्या की संसद ने एक महिला सांसद को सिर्फ इसलिए बाहर निकाल दिया, क्योंकि वो अपने पांच महीने के बच्चे को संसद लेकर पहुंच गई थी.

दरअसल केन्या की संसद में एक महिला सांसद ज़ुलेका हसन अपने पांच महीने के बच्चे को लेकर संसद पहुंचीं तो कुछ पुरुष सांसदों ने संसद में बच्चा लाने का विरोध किया. इसपर स्पीकर ने उन्हें बच्चा बाहर छोड़कर आने को कहा. ससंद के नियमों का हवाला देते हुए स्पीकर ने कहा कि चैंबर में अजनबी को आने की अनुमति नहीं है इसमें बच्चे भी शामिल है. स्पीकर के इस आदेश के बाद सदन में हंगामा हो गया.

सांसद ज़ुलेका ने बताया कि घरेलू एमरजेंसी के चलते बच्चा लेकर आई थीं. हालांकि, अन्य महिला सांसदों ने स्पीकर के फैसले को गलत बताते हुए संसद से वॉक आउट कर दिया.

एक इंटरव्यू में ज़ुलेका ने कहा, ”देश के लिए कानून हम बनाते हैं और अगर देश का कानून बनाने वाले ही महिलाओं का सहयोग करके एक अच्छा उदाहरण पेश नहीं कर सकते तो बाकी कंपनी, ऑफिस और सरकारें क्या करेंगे. अगर संसद में कोई नर्सरी या बच्चों की जगह होती तो मैं उसे वहां छोड़ देती. लेकिन यहां ऐसा नहीं है.”

जुलेइका हसन केन्या के तटीय इलाके क्वाले से सांसद हैं. वो संसद की कानून व्यवस्था समिति की सदस्य भी हैं. हसन को हमेशा से एक सक्रिय सांसद माना जाता है. 2016 में संसद में महिला सांसदों के लिए एक अलग कमरे बनाने की बात कही गई थी जिसमें वो अपने बच्चों को रख सकें. इस कमरे में बच्चों के साथ उनकी दाई भी होती. लेकिन अब तक ऐसा कमरा नहीं बन सका है.

Leave a Reply

%d bloggers like this: