Karnataka Crisis: स्पीकर से मिलने के लिए बागी विधायकों ने मांगा और समय

नई दिल्ली. कर्नाटक में विश्वास मत पर चर्चा के बीच शक्ति परीक्षण को लेकर चल रहा सियासी ड्रामा अभी खत्म नहीं हुआ है.

कर्नाटक के स्पीकर ने बागी विधायकों के आज पेश होने के लिए समन भेजा था. लेकिन बागी विधायकों ने स्पीकर के सामने पेश होने के लिए 4 हफ्ते का समय मांगा है.

कर्नाटक विधानसभा की कार्यवाही मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी द्वारा पेश विश्वास प्रस्ताव पर 3 दिन तक चर्चा के बाद भी इस पर मत विभाजन कराए बिना मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दी गई.

देर रात 11 बजकर 45 मिनट पर कर्नाटक विधानसभा की कार्यवाही को मंगलवार सुबह तक के लिए स्थगित कर दिया गया. स्पीकर ने कहा है कि शक्ति परीक्षण की प्रक्रिया मंगलवार शाम छह बजे तक पूरी हो जाएगी.

कर्नाटक में आज फ्लोर टेस्ट होना है लेकिन कांग्रेस विधायक ईश्वर कांद्रे ने मांग की है कि वोटिंग को 4 हफ्ते के लिए टाल देना चाहिए. उन्होंने कहा कि अगर बागी विधायक 4 हफ्ते का वक्त मांग रहे हैं तो फिर उन्हें भी वोटिंग का वक्त मिलना चाहिए.

कांग्रेस-जेडीएस के विधायकस्पीकर की तरफ से सभी विधायकों को सुबह 10 बजे विधानसभा पहुंचने को कहा गया था, लेकिन अभी तक कांग्रेस-जेडीएस के सिर्फ 5-10 विधायक ही पहुंचे हैं. हमारे विधायक अभी सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार कर रहे हैं.

सोमवार को देर रात तक विधानसभा की कार्यवाही चलती रही. आखिरकार स्पीकर केआर रमेश कुमार ने मंगलवार सुबह तक के लिए सदन को स्थगित करते हुए बहुमत परीक्षण की नई डेडलाइन तय की है.

उधर विश्वास मत प्रस्ताव पर वोटिंग में हो रही देरी को लेकर बीजेपी विधायकों ने सदन में हंगामा किया. इस बीच स्पीकर ने कहा है कि मंगलवार शाम छह बजे तक बहुमत परीक्षण की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी.

इससे पहले स्पीकर ने सदन में कहा, ‘मुझे इतना मजबूर मत करिए कि मैं बिना आपसे पूछे ही कोई फैसला ले लूं. इसके नतीजे खतरनाक हो सकते हैं.’

Leave a Reply