महाराष्ट्रः कंगना रनौत ने राज्यपाल कोश्यारी से की मुलाकात

Kangana met Governor Koshyari
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

मुंबई, महाराष्ट्र।

फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत उन पर हुए अन्याय के विरोध में रविवार को राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी से मिलीं. कंगना ने कहा कि राज्यपाल ने उनकी बात एक बेटी के जैसे सुना और उन्हें उम्मीद है कि न्याय मिलेगा.

कंगना ने पत्रकारों से कहा, “मेरे साथ अन्याय हुआ है. राज्यपाल हमारे गार्जियन हैं. इसी वजह से वह उनसे मिली हैं. मैं कोई राजनीतिक व्यक्ति नहीं हूं, न ही मेरा राजनीति में जाने का कोई इरादा है. मैं राज्यपाल से सिर्फ एक कामनमैन की तरह मिली.राज्यपाल ने एक बेटी की तरह पूरे सहानुभूति पूर्वक उनकी बात सुनी है. मैं उम्मीद कर रही हूं कि मुझे न्याय मिलेगा.”

बता दें कि कंगना के पाली हिल स्थित बंगले पर मुंबई नगर निगम की ओर से तोड़फोड़ की गई थी. इसके बाद मुंबई नगर निगम ने खार स्थित उनके निवास पर कार्रवाई शुरू कर दिया है. इससे परेशान होकर कंगना आज राज्यपाल से मिलीं हैं. कंगना के साथ राजभवन में उनकी बहन भी गई थीं.

सूत्रों के अनुसार कंगना ने राज्यपाल से मिलकर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की शिकायत की है. हालांकि पाली हिल में कंगना के बंगले पर हुई तोड़फोड़ की कार्रवाई के बाद राज्यपाल ने मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार को तलब किया था. संभावना जताई जा रही है कि राज्यपाल इस मामले में रिपोर्ट केंद्र सरकार को भेजेंगे.

सीएम ठाकरे ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस

इससे पहले मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुख्यमंत्री ठाकरने ने कहा कि वह खामोश हैं, तो उनकी खामोशी को उनकी कमजोरी नहीं समझा जाना चाहिए. मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष लगातार मुंबई और महाराष्ट्र की बदनामी कर रहा है, जबकि उनकी सरकार कोरोना से मजबूती से निपट रही है.

ठाकरे ने कहा कि विपक्ष राजनीतिक तूफान लाने का लगातार प्रयास कर रहा है . उन्होंने कहा कि शिवसेना इस तरह तूफान का सामना करने में समर्थ रही है लेकिन मैंने इस समय अपने मुंह पर मुख्यमंत्री पद का मास्क लगाया है, इसलिए आज कुछ नहीं बोलूंगा. इस मुद्दे पर बोलेंगे जरूर ,लेकिन आज नहीं, बाद में बोलेंगे.

हिन्दुस्थान समाचार/राजबहादुर