Mamata Banerjee को ट्रीटमेंट की जरुरत है- कैलाश विजयवर्गीय
  • पश्चिम बंगाल बीजेपी अध्यक्ष कैलाश विजयवर्गीय (kailash vijayvargiya) ने बंगाल के लिए पार्टी के नारे बताए हैं
  • लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल (west bengal) में शानदार प्रदर्शन के बाद अब विधानसभा चुनावों की तैयारी कर रही है

नई दिल्ली. लोकसभा चुनावों के बाद पश्चिम बंगाल में बीजेपी (bjp) और टीएमसी (TMC) के बीच टकराव थमने का नाम नही ले रहा है. आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला बदस्तूर जारी है.

इस क्रम में पश्चिम बंगाल बीजेपी अध्यक्ष कैलाश विजयवर्गीय (kailash vijayvargiya) ने बंगाल के लिए पार्टी के नारे बताए हैं. उन्होंने कहा कि बंगाल में हमारे नारे ‘जय श्री राम’ और ‘जय महाकाली’ होंगे. कैलाश विजयवर्गीय ने कहा है कि ममता बनर्जी (Mamata benerjee) की ज़मीन खिसक रही है इसी वजह से उनका मेंटल लेवल गड़बड़ा गया है, उन्हें ट्रीटमेंट की जरूरत है.

बीजेपी लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल (west bengal) में शानदार प्रदर्शन के बाद अब विधानसभा चुनावों की तैयारी कर रही है. अब नया बवाल नारों को लेकर है और बीजेपी ने ये भी बता दिया है कि वह पश्चिम बंगाल की राजनीति में कौन-से नारे का इस्तेमाल करेगी.

बीजेपी के पश्चिम बंगाल मामलों के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने राज्य में लोकसभा चुनाव में भगवा पार्टी की शानदार जीत के बाद अपने पहले दौरे में कहा, ‘बंगाल में हमारे नारे ‘जय श्री राम’ और ‘जय महाकाली’ होंगे. बंगाल महाकाली की धरती है. हमें मां काली का आशीर्वाद चाहिए.’

विजयवर्गीय ने बंगाल में बीजेपी के प्रचार को लेकर कहा कि यहां पार्टी तब तक प्रचार जारी रखेगी, जब तक ममता बनर्जी की टीएमसी पश्चिम बंगाल की सत्ता से बाहर नहीं हो जाती है. उन्होंने कहा कि यहां भगवा पार्टी के नेतृत्व वाली नई सरकार बनने तक जोर-शोर से प्रचार जारी रहेगा.

उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी खुद ही कानून तोड़ रही हैं, आप सोच सकते हैं जब मुख्यमंत्री ये कर रही हैं तो बंगाल की कानून व्यवस्था की हालत है.

उन्होंने कहा कि हम राष्ट्रपति शासन लगाने की कोई मांग नहीं करने जा रहे हैं, बंगाल में कानून व्यवस्था के क्या हालत है इसकी रिपोर्ट राज्यपाल ही राष्ट्रपति को देंगे.

विजयवर्गीय ने कहा, ममता सरकार विधानसभा चुनावों तक भी नहीं टिक पाएगी. क्योंकि उनकी पार्टी के कई विधायक नाराज हैं और पार्टी छोड़ने के लिए तैयार हैं. टीएमसी के कई विधायक कभी भी एक साथ पार्टी छोड़ सकते हैं.

बंगाल में BJP का प्रचार तब तक अधूरा रहेगा जब तक मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस की सरकार सत्ता से बाहर नहीं हो जाती और भगवा पार्टी के नेतृत्व में नई सरकार नहीं बन जाती.

इससे पहले सोमवार को ममता बनर्जी ने बीजेपी के दफ्तर पहुंचकर यहां ताले तुड़वाए थे और पेंट से TMC का नाम लिख दिया था. ममता ने दावा किया था कि ये पहले टीएमसी का ही दफ्तर था, जिस पर बीजेपी ने कब्जा कर लिया.

बंगाल में आज दक्षिणपंथी दल बीजेपी का वर्चस्व काफी तेजी से बढ़ता जा रहा है. यही वजह है कि बीजेपी और सत्तारुढ़ तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों के बीच झड़प की खबरें आए दिन आ रही हैं.

Trending Tags- Mamata benerjee | TMC | BJP | West Bengal News | Aaj Ka Samachar

Leave a Comment

%d bloggers like this: