जस्टिस अकील कुरैशी बने त्रिपुरा हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस, राष्ट्रपति ने जारी किए आदेश

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जस्टिस अकील कुरैशी को त्रिपुरा हाईकोर्ट का चीफ जस्टिस नियुक्त किया है. आज जारी नोटिफिकेशन में जस्टिस कुरैशी की नियुक्ति का आदेश जारी किया गया. 

जस्टिस कुरैशी की नियुक्ति में हो रही देरी के मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है. पिछले 7 नवम्बर को सुप्रीम कोर्ट ने 13 नवम्बर तक के लिए सुनवाई टाल दी थी. 

सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि नियुक्ति के संदर्भ में कुछ हस्ताक्षर किया किया जाना बाकी है, जिसके चलते नियुक्ति में देरी हो रही है. पहले कॉलेजियम ने जस्टिस कुरैशी को मध्य प्रदेश हाईकोर्ट का चीफ जस्टिस नियुक्त करने की अनुशंसा की थी लेकिन बाद में उन्हें त्रिपुरा हाईकोर्ट का चीफ जस्टिस नियुक्त करने की अनुशंसा की. 

हालांकि केंद्र सरकार ने उनकी नियुक्ति का नोटिफिकेशन जारी नहीं किया था, जिसकी वजह से ये मामला सुप्रीम कोर्ट में लटका हुआ था. पिछले 23 सितम्बर को सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले को लंबित रखने का फैसला किया था. 

याचिकाकर्ता गुजरात एडवोकेट्स एसोसिएशन की ओर से कहा गया था कि कॉलेजियम की जस्टिस कुरैशी को त्रिपुरा हाईकोर्ट का चीफ जस्टिस नियुक्त करने की अनुशंसा पर केंद्र सरकार का नोटिफिकेशन जारी होने तक याचिका को लंबित रखा जाए. 

सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका को केंद्र सरकार के नोटिफिकेशन होने तक लंबित रखने का आदेश दिया था. गुजरात हाईकोर्ट एडवोकेट्स एसोसिएशन की ओर से वकील पुर्विश मलकान ने याचिका दायर करते हुए कहा है कि सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम के फैसले को लागू करने के लिए दिशानिर्देश जारी किया जाए.

हिन्दुस्थान समाचार/संजय

Leave a Comment