झारखंडः विपक्ष पर बरसे मुख्यमंत्री, बोले- पहले की सरकारों ने सिर्फ लूटने का काम किया

रांची, झारखंड।

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो), कांग्रेस और क्षेत्रीय राजनीतिक दलों ने 2014 से पूर्व झारखंड को सिर्फ लूटने का काम किया. 2014 से पूर्व झारखंड में भ्रष्टाचार चरम पर था. घोटाला होना यहां आम बात थी. लेकिन झारखंड की जनता ने 2014 में भारतीय जनता पार्टी (BJP) को बहुमत देकर राज्य की सेवा करने का अवसर दिया. 

उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने भी लोगों की भावनाओं उनकी अपेक्षाओं और स्वाभिमान पर आंच नहीं आने दिया. पांच साल के कार्यकाल में वर्तमान सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा. यह सब तभी संभव हुआ जब आपने पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई. 

मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखण्ड के विकास के लिए पूर्ण बहुमत की सरकार चाहिए. इस चुनाव में कई ऐसे नेता आएंगे जो चुनाव में रूपये पैसे बांटकर आपका मत खरीदने का प्रयास करेंगे. लेकिन मतदान आपको अपनी मर्जी से झारखंड के उत्थान के लिए करना है. झारखंड में विकास कमल के माध्यम से ही हो सकता है. इसलिए इस चुनाव में कमल जरूरी है. 

रघुवर दास ने बताया कि राज्य गठन के बाद से गांव का विकास नहीं हुआ. घर घर बिजली नहीं पहुंची, जिससे लोगों में निराशा का भाव जगा. कुछ हद तक झारखंड में उग्रवाद उपरोक्त कारणों से पनपा. वर्तमान सरकार ने उग्रवाद को लगभग समाप्त कर दिया है. पिछले 5 साल में दृढ़ इच्छाशक्ति के कारण यह संभव हुआ. बचे हुए उग्रवादी भी बीजेपी की सरकार बनते ही छह माह के अंदर समाप्त कर दिए जाएंगे. 

उन्होंने कहा कि पटमदा गरीब क्षेत्र है, यहां सब्जी का उत्पादन अधिक होता है. पटमदा के किसान को भी वर्तमान सरकार ने आधुनिक खेती का प्रशिक्षण लेने इजराइल भेजा था. यहां के सब्जी उत्पादन को सरकार बढ़ावा देगी. ताकि झारखंड के सब्जी सऊदी अरब भेजे जा सके, इससे यहां के लोगों को प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रोजगार तो मिलेगा ही साथ ही किसान भी आर्थिक रूप से सशक्त हो सकेंगे. 

उन्होंने कहा कि किसानों को सिंचाई की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए वर्तमान सरकार 300 बिजली के फीडर बना रही है, जो जल्द तैयार हो जाएगी. इसके बाद किसानों को निर्बाध रूप से छह घंटे बिजली सिंचाई के लिए मिलेगा. यहां से पश्चिम बंगाल को जोड़ने वाली सड़क का निर्माण भी होगा. रोड निर्माण का डीपीआर तैयार हो चुका है. सरकार गठन के बाद सड़क का निर्माण कार्य शुरू होगा. 

दास ने कहा कि मैंने टाटा स्टील में लोहा तोड़ा है. गरीबी मैंने जी है. मुझे गरीबी का अनुभव है. इसलिए मेरा लक्ष्य झारखंड की गरीबी समाप्त करना है. इस निमित्त विगत पांच वर्ष में कई कार्य हुए. मैं यह नहीं कहता कि झारखंड को पांच वर्ष में विकसित राज्य बना दिया गया, लेकिन पूर्व की स्थिति में बदलाव जरूर आया है, इसका आंकलन आप स्वंय कर सकते हैं.

हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण

Leave a Reply