FATF को गुमराह करने की फिराक में पाकिस्तान, बम प्रूफ घर में छिपा बैठा है ‘लापता’ आतंकी मसूद अजहर

नई दिल्ली. पाकिस्तान (Pakistan) का झूठ फिर बेनकाब हो गया है. हाल ही मैं पाकिस्तान ने आतंकी संगठन जैश-ए मोहम्मद के सरगना मौलाना मसूद अजहर (Maulana Masood Azhar) के लापता होने की बात कही थी. मगर भारतीय एजेंसियों की मानें तो वो कड़ी सुरक्षा के बीच रह रहा है.

एजेंसियों को मसूद अजहर के अन्य तीन ठिकानों के बारे में पता चला है जो उसी प्रांत में हैं. ये बहावलपुर (bahawalpur) के कैसर कॉलोनी, खैबर पख्तूनख्वा के बन्नू में मदरसा बिलाल हब्शी और लक्की मारवत का मदरसा मस्जिद-ए-लुकमान में स्थित हैं.

आतंकी मसूद अजहर पाकिस्तान में रेलवे लिंक रोड, मरकज-ए-उस्मान-ओ-अली में स्थित आतंकी समूह के बहावलपुर हेडक्वार्टर के पीछे एक वर्चुअल बम प्रूफ घर में रह रहा है.

मसूद अजहर भारत में हुई कई आतंकी घटनाओं का मास्टरमाइंड है. पिछले साल पुलवामा (Pullwama) में 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले की जिम्मेदारी भी जैश संगठन ने ही ली थी. मसूद के बारे में रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि उसे गुपचुप तरीके से जेल से निकाल दिया गया है.

मसूद अजहर का संगठन ‘जैश-ए-मोहम्मद’ भारत ही नहीं अमेरिका, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा में भी अपनी आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे चुका है. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने मसूद अजहर को पिछले साल 1 मई को वैश्विक आतंकी घोषित किया था.

हालिया रिपोर्ट की मानें तो पाकिस्तान पेरिस में रविवार से शुरू फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) बैठक में बता सकता है कि आतंकी मसूद अजहर गायब है.

हालांकि, पाकिस्तान ने एफएटीएफ (FATF) की प्लेनरी मीटिंग से ठीक पहले आतंकी फंडिंग के आरोप में जमात-उद-दावा के प्रमुख और आतंकी हाफिज सईद और उसके सहयोगियों को दो मामलों में करीब साढ़े पांच-पांच साल की जेल की सजा सुनाई है.

Leave a Reply

%d bloggers like this: