JEE MAINS के लिए FEBRUARY से शुरू होगा REGISTRATION

हर साल IIT’s और देश के प्रमुख इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट में एडमिशन के लिए JOINT ENTRANCE EXAM (JEE) की MAIN और ADVANCED एग्जाम का आयोजन होता है. इस साल से JEE एग्जाम का आयोजन साल में दो बार किया जाएगा.

एक एग्जाम जनवरी में हो चुका है और दूसरी अप्रैल में होगा. 2019 की जनवरी वाला मेन्स एग्जाम का रिजल्ट भी आ गया है. अब अप्रैल वाले एग्जाम की बारी है. अप्रैल वाले एग्जाम के बारे आपको बताते हैं कि एग्जाम का रजिस्ट्रेशन कब शुरू होगा और पूरा शेड्यूल क्या है…

यह है पूरा शेड्यूल
रजिस्ट्रेशन- 8 फरवरी से 7 मार्च 2019 तक 
फीस जमा करने की तारीख- 8 फरवरी से 8 मार्च 2019 तक 
परीक्षा- 6 अप्रैल से 20 अप्रैल 2019 तक 
रिजल्ट- 30 अप्रैल 2019 को 

आपको बता दें कि JEE MAIN के पहले चरण के एग्जाम का रिजल्ट 19 जनवरी को जारी किया गया है. इस एग्जाम को पहली बार NATIONAL TESTING AGENCY (NTA) ने आयोजित किया था. एग्जाम में 1 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स बैठे थे.


JEE MAIN एग्जाम को पास करने वाले कैंडिडेट्स NIITs, IIITs and CFTIs जैसे इंस्टीट्यूट में सेंट्रल सीट एलोकेशन के तहत एडमिशन लेने के हकदार होंगे. JEE MAIN एग्जाम देने के लिए आवेदक के 12वीं में 75 अंक होना जरूरी होता है. वहीं SC/ST के 65 फीसदी अंक होना जरूरी होता है. 

इन बातों का रखें ध्यान 

अब स्टूडेंट्स को दूसरे अटैंप्ट पर ध्यान लगाना है. इन दोनों अटैंप्ट के आधार पर ही JEE ADVANCED के लिए कटऑफ जारी की जाएगी. एक्सपर्ट का कहना है कि वर्तमान में जो पर्सेंटाइल आए हैं, ऑल इंडिया रैंकिंग इसके हिसाब से नहीं बनेगी.

उसके लिए स्टूडेंट्स के सेकंड अटैंप्ट की पर्सेंटाइल भी देखी जाएगी. दोनों ही एक्जाम में जिसका बेस्ट स्कोर होगा. इस हिसाब से ऑल इंडिया रैंक जारी होगी.

पहले अटैंप्ट को बनाएं आधार

एक्सपर्ट का कहना है कि दूसरे अटैंप्ट के लिए स्टूडेंट्स के पास करीब ढाई महीने का समय है. जिन स्टूडेंट्स के पर्सेंटाइल कम रहे हैं, उन्हें स्टडी करने के लिए पहले अटैंप्ट को आधार बनाना होगा. उन्हें यह पता चल सकेगा कि किस विषय में उनका स्कोर कम रहा. स्टूडेंट्स को कोशिश करनी चाहिए कि वे केमिस्ट्री 45 मिनट, फिजिक्स 55 मिनट और मैथ्स के क्वेशच्न डेढ़ घंटे में सॉल्व करें.

70 से 77 के बीच कटऑफ

एक्सपर्ट का कहना है कि यह एग्जाम NTA ने नए पैटर्न पर आयोजित की है. अगले अटैंप्ट के बाद ही कॉमन मेरिट लिस्ट जारी होगी. इसमें छात्र-छात्राओं की ऑल इंडिया रैंक घोषित होगी. इस बार जेईई एडवांस्ड के लिए 70 से 77 के बीच कटऑफ की उम्मीद की जा रही है.

%d bloggers like this: