ISRO प्रमुख का बड़ा ऐलान, अब भारत भी बनाएगा अपना स्पेस स्टेशन

  • इसरो प्रमुख के सिवन ने बताया कि हमें मानव अंतरिक्ष मिशन के लॉन्च के बाद गगनयान कार्यक्रम को बनाए रखना होगा
  • सिवन ने कहा कि गगनयान मिशन को विस्तार देते हुए इस कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार की जा रही है

नई दिल्ली. भारत अब खुद अपना स्पेस स्टेशन बनाने की योजना पर काम कर रहा है. इसरो प्रमुख के सिवन ने इस बारे में बात करते हुए कहा कि यह महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट गगनयान मिशन का ही विस्तार होगा.

इसरो प्रमुख के सिवन ने बताया कि हमें मानव अंतरिक्ष मिशन के लॉन्च के बाद गगनयान कार्यक्रम को बनाए रखना होगा. इसी के चलते भारत अपना खुद का स्पेस स्टेशन तैयार करने की योजना बना रहा है.

सिवन ने कहा कि गगनयान मिशन को विस्तार देते हुए इस कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार की जा रही है. गगनयान के जरिये इसरो 2022 में तीन यात्रियों को अंतरिक्ष में भेजेगा. इसकी तैयारियां फिलहाल जोरों पर हैं.

इसके बाद इस कार्यक्रम को विस्तार देते हुए स्पेस स्टेशन की स्थापना की जाएगी. वैज्ञानिक अंतरिक्ष में जाकर वहां मौजूद कई रहस्यों को उजागर करने की कोशिश करेंगे. इसरो ने कहा कि यह स्पेस स्टेशन करीब 20 टन की क्षमता का होगा.

इसमें किसी देश की साझीदारी नहीं होगी. इसरो इसे अकेले अपने बल बूते पर ही बनाएगा. इसरो जब मानव को अंतरिक्ष में भेजने में कामयाब हो जाएगा. तब हमारा अगला कदम वहां रहकर शोध करने का होगा.

के सिवन ने कहा कि चंद्रयान अभियान 2 के बाद इसरो सूर्य को लेकर अभियान शुरू करेगा. इसके तहत 2020 की पहली छमाही में आदित्य एल1 लॉन्च किया जाएगा. वहीं शुक्र के लिए एक और अंतरग्रहीय अभियान को अगले 2-3 वर्षों में लॉन्च किया जाएगा.

अतंरिक्ष मिशन के बारे में उन्होंने बात करते हुए बताया कि हमारे पास अंतरिक्ष कार्यक्रम के लिए स्पष्ट योजना है. हम अलग अंतरिक्ष स्टेशन स्थापित करने की योजना की रूपरेखा बना रहे हैं. हमारा अंतरिक्ष स्टेशन बहुत छोटा होगा.

इसके अलावा हम एक छोटा मॉड्यूल भी लॉन्च करेंगे. जिसका इस्तेमाल माइक्रोग्रैविटी प्रयोग के लिए किया जाएगा. इसरो ने इससे पहले कहा था कि भारत का दिसंबर 2021 तक अंतरिक्ष में मनुष्य को भेजने का लक्ष्य है.

भारत का दूसरा मिशन चंद्रयान 2 श्रीहरिकोटा से 15 जुलाई को लगभग आधी रात को रवाना होगा. प्रक्षेपण के बाद उपग्रह ‘चंद्रयान 2’ को कई हफ्ते लगेंगे. जो चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सॉफ्ट लैंडिंग करेगा.

कई विशेषज्ञों का मानना है कि यह अभियान भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी का अब तक का सबसे जटिल मिशन है. जिस पर 1,000 करोड़ रुपये से कम खर्च हुआ है. अमेरिका, रूस और चीन के बाद भारत ऐसा चौथा देश होगा जिसका अंतरिक्ष में अपना स्टेशन होगा.

Trending Tags- Isro News Today | Isro Latest Projects | Chandrayaan 2 Launch Date

1 thought on “ISRO प्रमुख का बड़ा ऐलान, अब भारत भी बनाएगा अपना स्पेस स्टेशन”

Leave a Reply