नई दिल्ली. मणिपुर की ‘आयरन लेडी’ के तौर पर मशहूर IROM SHARMILA ने मदर्स डे के दिन जुड़वा बच्चियों को जन्म दिया. इरोम ने बेंगलुरु के एक अस्पताल में इन बच्चियों को जन्म दिया. इरोम शर्मिला को पूरी दुनिया आयरन लेडी ऑफ मणिपुर के नाम से जानती है.

इरोम Mother’s Day के मौके पर बंगलूरू के क्लाउडनाइन अस्पताल में जुड़वां लड़कियों को जन्म दिया है. दोनों बच्चियों का जन्म के समय वजन 2.1 किलोग्राम था और वे पूरी तरह से ठीक हैं. इरोम शर्मिला मणिपुर में आर्म्स फोर्सेस स्पेशल पावर्स एक्ट (AFSPA) के खिलाफ 16 साल तक लगातार अनशन के लिए जानी जाती हैं.

46 साल की शर्मिला ने अगस्त 2016 में अपनी भूख हड़ताल को खत्म किया था. इसके बाद वह कोडईकनल चली गई थीं और गर्भवती होने के बाद वह बंगलूरू चली गई थीं. शर्मिला और उनके गोवा स्थित ब्रिटिश नागरिक पति देशमोंड कूटिन्हो ने बेटियों के नाम निक्स सखी और ऑटम तारा रखा है.

बेटियों के जन्म पर शर्मिला ने कहा, ‘ये एक नई जिंदगी है. मेरे लिए एक नई शुरुआत है. मैं बहुत खुश हूं. मेरी और देशमोंड की कोई इच्छा नहीं थी. हम केवल स्वस्थ बच्चे चाहते थे.’ दोनों बेटियों का जन्म सुबह 9.20 मिनट पर सी सेक्शन के जरिए क्लाउडनाइन की मल्लेश्वरम शाखा में हुआ.

मेरी बेटियों का जन्म मदर्स डे पर हुआ है इसलिए मेरी खुशी दोगुनी रहो गई है. मुझे लगता है कि ये महत्वपूर्ण है.’

2016 में इरोम शर्मिला ने राजनीति में जाने की बात कहते हुए अपना अनशन तोड़ा था. उन्होंने इसके बाद मणिपुर विधानसभा चुनाव में हिस्सा भी लिया लेकिन उन्हें तौबल से मुख्यमंत्री इबोबी सिंह के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा.