IPL 2020: आज UAE में IPL का पहला मैच, मुंबई-चेन्नई होंगे आमने सामने

19
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली. दुनिया में चल रहे कोरोना वायरस (Corona Virus)  संकट के बीच आज से क्रिकेट प्रेमियों के लिए आज से यूएई (UAE) में इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) शुरू हो रहा है. आईपीएल के इतिहास में पहली बार किसी मैच का आयोजन मैदान पर बिना दर्शकों के होने जा रहा है.

आईपीएल सीजन 13 का पहला मैच डिफेंडिंग चैम्पियन मुंबई इंडियंस (Mumabi Indians) और चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के बीच अबु धाबी में खेला जाएगा. टूर्नामेंट के इतिहास में ये चौथी बार है, जब दोनों टीमें ओपनिंग मैच खेलेंगी. दोनों टीमों के बीच अब तक हुए तीन ओपनिंग मैच में से 2 मुंबई इंडियंस और 1 सीएसके (CSK) जीती है.

डिफेंडिंग चैम्पियन मुंबई ने पिछले सीजन के फाइनल में सीएसके को 1 रन से शिकस्त दी थी. इस बार टीम फिर रोहित शर्मा की कप्तानी में जीत से आगाज करना चाहेगी. वैसे यूएई में मुंबई का रिकॉर्ड बेहद खराब रहा है.

इस बार धोनी की सीएसके टीम अपने टॉप स्कोरर सुरेश रैना और सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले हरभजन सिंह के बगैर उतरेगी. इस महीने की शुरुआत में सीएसके के दो प्लेयर दीपक चाहर और रितुराज गायकवाड़ समेत 13 लोग कोरोना पॉजिटिव आए थे.

अगले 53 दिन धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स, कोहली की रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर, रोहित की मुंबई इंडियंस, केएल राहुल की किंग्स इलेवन पंजाब और श्रेयस अय्यर की दिल्ली कैपिटल्स समेत आईपीएल टीमों के नाम होंगे.

भारत में कोरोना वायरस (Corona virus) महामारी के बढते मामलों की वजह से टूर्नामेंट यूएई (UAE) में खेला जा रहा है और मैदान में दर्शक नहीं होंगे. खिलाड़ियों के लिए मैदान में उतरने से भी ज्यादा बड़ा चैलेंज बायो सिक्योर बबल है. ये खिलाड़ियों को कोरोना से बचाने के लिए बनाया गया है सुरक्षित वातावरण है.

खिलाड़ियों को हर छठे दिन कोविड 19 टेस्ट (Covid-19 Test) से गुजरना होगा. पिछले महीने दुबई पहुंचने पर भी खिलाड़ियों के दो-दो कोविड 19 टेस्ट लिए गए थे और उसके बाद ही मैदान पर खिलाड़ियों को एंट्री दी गई.

खाली स्टेडियम में जैव वातावरण के बीच आठ टीमें अगले 53 दिनों में 60 मुकाबलों के लिए जब टकराएंगी तो पूरी दुनिया की निगाह इस टूर्नामेंट पर होगी. जिन हालातों इस टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है, ऐसी परिस्थितियों में क्रिकेट का इतना बड़ा टूर्नामेंट कभी नहीं खेला गया.

आईपीएल को छोड़ क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले चुके महेंद्र सिंह धोनी चेन्नई सुपरकिंग्स को 3 बार खिताब जिता चुके हैं. उनके नेतृत्व में टीम 8 बार फाइनल में पहुंची है. इस बार सभी की नजर इस बात पर होगी कि वो टूर्नामेंट में क्या रणनीति अपनाते हैं.