पुलिस महानिरीक्षक ने पुलिस लाइन में जवानों को दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

जौनपुर, यूपी।

जौनपुर पुलिस महानिरीक्षक, वाराणसी परिक्षेत्र विजय सिंह मीणा ने जिले में प्रवास के दूसरे दिन पुलिस लाइन के मैदान में परेड की सलामी ली एवं सलामी परेड का निरीक्षण कर परेड ड्रिल, दंगा नियंत्रण उपकरणों का प्रशिक्षण/अभ्यास कराया साथ ही आवश्यक दिशा निर्देश दिया. 

परेड के बाद आइजी ने वृक्षारोपड़ करके पुलिस लाइन्स परिसर एवं स्थित शाखाओं व आरटीसी परिसर, बैरक का निरक्षण किया. इस दौरान आइजी ने पुलिस मेस में खाना खाकर गुणवत्ता को जांचा परखा गया. पुलिस लाइन स्थित सभागार में समस्त राजपत्रित अधिकारी, जिला अभियोजन अधिकारी एंव समस्त प्रभारी निरीक्षक, थानाध्यक्ष के साथ गोष्ठी व महिला सम्बन्धित अपराध की समीक्षा किया.

इसके बाद पत्रकारों से बात करते हुए आईजी ने कहा कि जिले के जनप्रतिनिधियों से मिला और उनके द्वारा जनपद की बारे में जानकारी प्राप्त किया. जनप्रतिनिधियों द्वारा मिली शिकायतों के बारे में शिकायतों के बारे में जांच की जा रही है. इसके बाद जेल का निरीक्षण किया गया.

उन्होंने बताया कि इस दौरान जो भी कमियां पाई गई थी उसके संबंध में कार्रवाई की जा रही है .मेरे द्वारा इस मामले में डीजी जेल को भी पत्र लिखा गया है. साथ ही जनता से भी बातचीत किया गया पुलिस लाइन का का निरीक्षण किया गया कुछ कमियां हैं जिनको सही करने की जरूरत है.

उन्होंने कहा कि जो समस्याएं हैं उसके बारे में पुलिस अधीक्षक को निर्देशित किया गया है. हमारा मुख्य उद्देश्य रहा है कि हम जनता से सीधा संवाद बनाए स्थापित करें इसके लिए मेरे द्वारा निर्देशित किया गया है. प्रत्येक थानाध्यक्ष अपने गांव के 10 संभ्रांत लोगों से संपर्क स्थापित करें और उनकी सूची थाने के अंदर रहे. जिससे कभी भी कोई सूचना गांव के अंदर लेनी हो तो या कोई तनाव है तो उन लोगों से सीधा संपर्क स्थापित कर पूरी सूचना प्राप्त हो जाएगी.

उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों द्वारा गलत पैरवी करने के मामले पर उन्होंने कहा कि मैंने सभी थानाध्यक्षों और राजप्रपत्र अधिकारियों को निर्देशित किया है कि अगर हमारे थाने पर कोई सिपाही का दुर्व्यवहार है वह गलत कार्य कर रहा है तो उसको चिन्हित करें उसकी रिपोर्ट भेजेगा. उसको थाने पर नहीं रखा जाएगा, जो भी हो निष्पक्षता से कार्रवाई करना सुनिश्चित करें. जिससे आम जनता में विश्वास जागृत हो लोगों से सीधा संपर्क स्थापित किया गया है. 

उन्होंने कहा कि कुछ कमियां है उसको हम लोग देख रहे हैं. ज्यादातर जो भी मामले सामने आए हैं रेवेन्यू से से संबंधित हैं ऐसे मामलों में मेरे द्वारा निर्देशित किया गया कि टीम बनाकर लेखपाल तहसीलदार और कानूनगो मौके पर जाकर पुलिस के साथ मामले को सुलझाएगे. 

तहसील दिवस और थाना दिवस को और अधिक प्रभावी बनाए जाने की जरूरत है. जिससे हमको इसमें सकारात्मक परिणाम मिलने लगेंगे .आगामी पर्व को देखते हुए और साथ ही अयोध्या प्रकरण पर आने वाले फैसले को लेकर उन्होंने कहा कि हमारी पूरी तरह से तैयारी है सभी से संवाद स्थापित कर शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील किया गया है.

हम किसी भी मामले में निपटने के लिए तैयार है. इससे पूर्व भी तमाम मौके आए हैं जिसको हम लोगों ने अच्छे ढंग से निस्तारित कर सौहार्दपूर्ण वातावरण में त्योहार संपन्न कराए हैं. दीपावली की तैयारी पूरी तरह से है हमारा पूरा विभाग सक्रिय है कहीं कोई तनाव की स्थिति की जानकारी मिलती है. तो पुलिस मौके पर पहुंच कर मामले को सुलझा लेगी. 

सोशल मीडिया पर यदि किसी प्रकार का कोई कमेंट या टिप्पणी मिलती है तो उस पर तत्काल कार्रवाई करना सुनिश्चित कराई जाएगी और संबंधित धाराओं में मुकदमा लिख कर  संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

Leave a Comment

%d bloggers like this: