Selfie है जानलेवा, मरने वालों में भारत सबसे आगे

युवाओं में सेल्फी (Selfie) का बढ़ता क्रेज, खतरनाक होता जा रहा है. सेल्फी का क्रेज इतना होता है कि लोग जानलेवा हरकते करने से भी नहीं चुकते. और जान गंवा देते हैं. एक रिपोर्ट के अनुसार दुनियाभर में सेल्फी से होने वाली मौतों में भारत नंबर एक पर है. इसके बाद रूस, अमेरिका और पाकिस्तान का नंबर आता है.

6 सालों में 259 लोगों की जान गई

इंडिया जर्नल ऑफ फैमिली मेडिसीन एंड प्राइमरी केयर ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि 2011 से 2017 तक 259 लोग सेल्फी लेने की चक्कर में अपनी जान गवां बैठे हैं. इनमें सबसे ज्यादा 159 मौतें सिर्फ भारत में हुईं हैं. रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि यह आंकड़ा सालों-साल बढ़ रहा है.

भारत में सेल्फी (Selfie) के चक्कर में ज्यादातर मौतें डूबने से हुई हैं. इसके बाद चलती ट्रेन के सामने और हिंसक जानवरों के साथ सेल्फी लेने में लोगों ने जान गंवाई. वहीं विदेशों में ऊंची इमारतों और जंगली जानवरों के साथ सेल्फी के दौरान सबसे ज्यादा लोग मारे गए गए.

सेल्फी के लिए सोशल मीडिया भी एक वजह

सेल्‍फी को लेकर कई तरह के शोध सामने आए हैं. सोशल मीडिया (Social Media) पर तरह-तरह की सेल्फी अपलोड करने का खुमार हद से ज्यादा है. आपने भी लोगों को रेलवे लाइन, बस स्टैंड या एयरपोर्ट पर सेल्‍फी खींचते जरूर देखा होगा. इससे साफ है कि हम अपने और अपने परिवार के प्रति पूरी तरह से लापरवाह हो चुके हैं और बनावटी दुनिया में जीवन जी रहे हैं. जहां सोशल मीडिया सबसे आगे हो गई है.

सेल्फी लेने में महिलाएं सबसे आगे

रिपोर्ट की मानें तो सेल्फी लेने में महिलाएं सबसे आगे हैं, हालांकि महिलाएं सेल्फी के लिए जान जोखिम में डालने में पीछे हैं. सेल्फी से होने वाली मौत को ध्यान में रखते हुए गोवा, दिल्ली और मुंबई जैसे शहरों के कई इलाकों को नो-सेल्फी जोन में भी तब्दील कर दिया गया है.

रिपोर्ट के मुताबिक भारत में 80 करोड़ से ज्यादा लोग मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते हैं. सेल्फी लेने के दौरान हादसे का शिकार होकर जान गंवाने वालों में से 72 फीसदी पुरुष थे और बाकी महिलाएं.

Leave a Comment

%d bloggers like this: