पहली बार दूधिया रोशनी में टेस्ट मैच खेलेगी भारत और बांग्लादेश की टीमें, इतिहास रचने को तैयार है ईडन गार्डन्स मैदान

पिछले कुछ समय से दूसरे मुल्कों में गुलाबी गेंद से क्रिकेट खेलने का प्रयोग जारी है, लेकिन अब पहली बार भारत में भी फ्लड लाइट्स में गुलाबी गेंद से मैच खेला जाएगा.

क्रिकेट में कई नियम बनाए और हटाए गए, मगर कुछ नियम ऐसे होते हैं जो इतिहास के पन्नों में दर्ज हो जाते. चार साल पहले 27 नवंबर को ही क्रिकेट मैदान पर ऐसा ही कुछ अलग देखने को मिला था जिसकी कल्पना शायद किसी ने नहीं की थी.

ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की टीमों के बीच 142 साल के टेस्ट इतिहास में पहली बार डे-नाइट टेस्ट मैच खेला गया. यह मैच एडीलेड में आयोजित किया गया था. यही नहीं इस टेस्ट में लाल की बजाए गुलाबी रंग की गेंद इस्तेमाल की गई थी.

क्रिकेट में यह परिवर्तन इसलिए किया गया था ताकि टेस्ट क्रिकेट में दर्शकों की रुचि बढ़ाई जा सके. लेकिन अब भारत में भी पहली बार गुलाबी गेंद का इस्तेमाल किया जा रहा है.

भारत और बांग्लादेश के बीच ईडन गार्डन्स में 22 नवंबर से शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट मैच के दौरान पहली बार भारत में गुलाबी गेंद का उपयोग किया जाएगा. दोनों टीमें पहली बार दिन रात्रि टेस्ट मैच में खेलेंगी और एसजी की गुलाबी गेंद भी पहली बार आधिकारिक तौर पर उपयोग की जाएगी.

टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में अब तक कुल 11 डे-नाइट टेस्ट मैच खेले गए हैं. अभी तक कुल आठ टीमें डे-नाइट टेस्ट का हिस्सा रही हैं. इसमें ऑस्ट्रेलिया, श्रीलंका, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, पाकिस्तान, साउथ अफ्रीका, वेस्टइंडीज और जिंबाब्वे शामिल हैं. डे-नाइट टेस्ट अब तक छह देशों में खेले गए हैं. इसमें ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, साउथ अफ्रीका, न्यूजीलैंड, बाराबडोस, दुबई के नाम शामिल हैं.

टेस्ट खेलने वाले सबसे पुराने देशों में भारत ही ऐसा है जिसने अभी तक डे-नाइट टेस्ट मैच नहीं खेला था. आपको बता दें बीसीसीआई इससे पहले डे-नाइट टेस्ट मैच का समर्थन नहीं करता था.

जिसकी वजह से टीम इंडिया एक भी डे-नाइट टेस्ट नहीं खेल पाई. अब सौरव गांगुली के बीसीसीआई अध्यक्ष बनने के बाद कोलकाता में भारत को पहला डे-नाइट टेस्ट खेलना है.

उससे पहले टीम इंडिया के शीर्ष बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा का मानना है कि भारत और बांग्लादेश के बीच इस महीने के आखिर में कोलकाता में होने वाले दिन रात्रि टेस्ट मैच के दौरान ‘सूर्यास्त के समय दृश्यता’ का मसला हो सकता है.

इस मैच को देखने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह कोलकाता पहुंचेंगे.

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के अलावा पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी और बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना भी इस ऐतिहासिक डे-नाइट टेस्ट की गवाह बनेंगी। इसके अलावा कई भारतीय खिलाड़ी मौजूद रहेंगे.

क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल (CAB) के सचिव अविषेक डालमिया ने बताया कि 22 नवंबर की शाम को अभिनव बिंद्रा, मैरी कॉम जैसे अन्य खिलाड़ियों को सम्मानित किया जाएगा.

ब्रेक के दौरान चैट शो भी करने की योजना है जिसमें गांगुली, तेंदुलकर, द्रविड़, अनिल कुंबले और वीवीएस लक्ष्मण होंगे। बता दें कि चैट शो के बाद 22 नवंबर की शाम को एक घंटे के कार्यक्रम की भी योजना बनाई गई है.

मयंक अग्रवाल (243) के दमदार दोहरे शतक और मोहम्मद शमी की बेहतरीन गेंदबाजी की बदौलत भारत ने तीसरे ही दिन पहले टेस्ट में बांग्लदेश को एक पारी और 130 रन से हरा दिया। इसके साथ टीम इंडिया ने दो मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली है.

Leave a Reply