जाफना अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का उद्घाटन, चेन्नई से उड़ान पहुंची श्रीलंका के उत्तरी प्रांत

नई दिल्ली/जाफना, 17 अक्टूबर. श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना ने गुरुवार को जाफना अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का उद्घाटन किया. श्रीलंका के प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे भी इस अवसर पर उपस्थित थे. इस क्षण को ऐतिहासिक बनाने के लिए चेन्नई से भारत के भारतीय गण्यमान्य लोगों को ले जा रही फ्लाइट जाफना हवाई अड्डे पर उतरी.

इसके लिए एयर इंडिया की सहायक कंपनी एलायंस एयर द्वारा एटीआर 72-600 ने शॉर्ट-हेल उड़ान का संचालन किया. यह एलायंस एयर की पहली अंतरराष्ट्रीय उड़ान है. चेन्नई और जाफना के बीच नियमित वाणिज्यिक उड़ानें नवम्बर 2019 के आरम्भ से शुरू होने वाली हैं.

इस अवसर पर श्रीलंका में भारतीय उच्चायुक्त तरनजीत सिंह संधू ने अपने संबोधन में कहा कि भारत और श्रीलंका के द्विपक्षीय संबंध अब वास्तव में आसमान को छू चुके हैं. यह उद्घाटन उड़ान भारत की श्रीलंका में विकास उन्मुख परियोजनाओं को जारी रखने की प्रतिबद्धता की एक और मिसाल है.

उच्चायुक्त ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 2015 में अपनी श्रीलंका यात्रा के दौरान कहे वाक्यों को दोहराया. मोदी ने उस समय कहा था, “भारत के लिए मैं जो भविष्य का सपना देख रहा हूं, वह भी एक ऐसा भविष्य है जो मैं अपने पड़ोसियों के लिए चाहता हूं.”

उल्लेखनीय है कि भारत सरकार ने इससे पहले श्रीलंका सरकार के साथ नवम्बर 2005 में हुए एमओयू के तहत पलीला एयरफील्ड में रनवे और बुनियादी ढांचे के पुनर्वास के लिए अनुदान सहायता बढ़ा दी थी.

दोनों पक्ष जाफना से क्षेत्रीय वाणिज्यिक यात्री उड़ानों के परिचालन की दिशा में भी काम कर रहे हैं. हाल ही में श्रीलंका सरकार द्वारा हवाई अड्डे की स्थापना के साथ-साथ सहायक सुविधाएं स्थापित की गई हैं.

श्रीलंका के परिवहन और नागरिक उड्डयन मंत्री अर्जुन रणतुंगा, कई अन्य मंत्री और संसद सदस्य, राज्यपाल, उत्तरी प्रांत के राज्यपाल डॉ. सुरेन राघवन, श्रीलंका में भारत के उच्चायुक्त तरनजीत सिंह संधू, एयर इंडिया के सीएमडी अश्वनी लोहानी.

एलायंस एयर के सीईओ सीएस सुब्बैया, जाफना में भारत के महावाणिज्यदूत एस बालाचंद्रन, श्रीलंका के त्रि-बलों के सदस्य, श्रीलंका सरकार और भारत सरकार के कई अधिकारियों ने उद्घाटन समारोह में भाग लिया. हिन्दुस्थान समाचार/अनूप

Leave a Comment

%d bloggers like this: