शेन वार्न से प्रेरणा लेकर अपनी बल्लेबाजी में किया सुधार : स्टुअर्ट ब्रॉड

Stuart-Broad
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड ने कहा है कि उन्होंने पूर्व ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर शेन वार्न से प्रेरणा लेकर अपनी बल्लेबाजी में सुधार किया है. ब्रॉड ने इंग्लैंड के लिए तीसरे और निर्णायक टेस्ट मैच की पहली पारी में संयुक्त तीसरा सबसे तेज अर्धशतक लगाया. ब्रॉड ने इस मैच में 45 गेंदों में 62 रनों की पारी खेली.

ब्रॉड ने कहा, ‘रणनीतिक रूप से ऐसा करना सही था… उन्होंने (मूर्स) मुझे शेन वार्न का उदाहरण दिया जो क्रीज पर कभी कभी काफी सहज नहीं दिखते थे लेकिन गेंद को अलग अलग जगह मार सकते थे और काफी प्रभावी थे, विशेषकर 2005 एशेज में.’

उन्होंने कहा, ‘काफी गैरपारंपरिक, मैदान के विभिन्न हिस्सों में शॉट खेलना, मैंने इसे देखा, वह ऐसा कैसे करता है इस पर थोड़ा रिसर्च किया और फैसला किया कि यह मेरे लिए इसे आजमाने के लिए अच्छा दिन है.’

ब्रॉड जिस समय बल्लेबाजी करने उतरे उस समय इंग्लैंड की टीम 280 रन पर आठ विकेट गंवा चुकी थी,लेकिन इसके बाद ब्रॉड की आतिशी पारी की बदौलत इंग्लैंड की टीम 369 रनों तक पहुंचने में सफल रही.

ब्रॉड ने कहा, ‘बल्लेबाजी काफी अजीब चीज है. सुबह अगर आप मुझे कहते कि मैं 10 रन बनाऊंगा तो काफी खुश होता और फिर आपने 60 रन बनाए और निराश हो गए कि 70 रन नहीं बना पाए.’ उल्लेखनीय है कि ब्रॉड को पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड की टीम में शामिल नहीं किया गया था. पहला मैच वेस्टइंडीज ने जीता था. उन्होंने दूसरे टेस्ट के लिए इंग्लैंड की टीम में वापसी की और टीम की जीत में अहम योगदान दिया.

हिन्दुस्थान समाचार/सुनील