Red जोन में आता है अगर आपका इलाका, तो जानिए क्या खुला क्या बंद!

7
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली. कोरोना वायरस के खिलाफ जंग के चलते भारत में अब 17 मई तक लॉकडाउन जारी रहेगा…हालांकि इस दौरान कई तरह की रियायतें दी गई हैं….लेकिन ये सभी छूटें इस आधार पर तय होंगी कि आपका इलाका या जिला किस जोन में आता है.

दरअसल सरकार ने देश के सभी जिलों को रेड, ग्रीन और ऑरेंज जोन में बांट दिया है….उन जोन के हिसाब से तय किया गया है कि कहां कितनी छूट देनी है… कुल मिलाकर इस बार का लॉकडाउन पहली दो बार की तरह सख्त नहीं होगा….

.ग्रीन और रेड जोन में आने वाले जिलों में इस बार काफी रियायतें दी जा रही हैं….आपको बता दें कि रेड जोन में वो जिले हैं जहां पर 15 से ज्यादा कोरोना के मरीज है.. वहीं ऑरेंज जोन में वो जिले शामिल हैं जहां 15 से कम केस आते हैं…

लॉकडाउन-3 के दौरान पूरे देश में शाम सात बजे से सुबह सात बजे तक जरूरी सेवाओं को छोड़कर लोगों को बाहर निकलने की इजाजत नहीं होगी..

अगर आप जानते हैं कि आपका शहर या ज़िला रेड, ज़ोन में आता है तो आपको आसानी से पता चल सकता है कि कहां क्या-क्या खुलेगा और क्या-क्या बंद रहेगा…..

RED Zone में क्या खुला, क्या बंद, जानिए यहां

सबसे पहले जानते हैं रेड जोन के बारे में….‘हॉट स्पॉट’ को रेड ज़ोन का नाम दिया गया है… जहां कोरोना के केस ज़्यादा हैं…. इस ज़ोन में कुल 130 जिले हैं.. इन क्षेत्रों में सिर्फ जरूरी सर्विस की अनुमति दी गई है…रेड जोन में सीमित सेवाएं हासिल होंगी..

  • रेड जोन में रिक्शा, ऑटो, टैक्सी और ओला, उबर जैसी टैक्सी नहीं चलेंगी…
  • यहां सैलून, स्पा, ब्यूटी पार्लर भी नहीं खुलेंगे और साथ ही यहां बसें भी नहीं चलेंगी..
  • इस जोन में कुछ प्राइवेट वाहन को शर्तों के साथ आने-जाने की अनुमति होंगी…
  • कार में ड्राइवर के अलावा केवल दो लोग ही बैठ सकेंगे….
  • टू व्हीलर की स्थिति में केवल चलाने वाले को ही आने-जाने की परमीशन होगी..
  • स्पेशल इकोनॉमिक जोन और एक्सपोर्ट ओरिएंटेड यूनिट्स के साथ-साथ औद्योगिक शहरों और क्षेत्रों को कामकाज के लिए पूरी तरह छूट है…
  • इसके साथ ही जरूरी सामान, दवा, मेडिकल उपकरण के साथ ही आइटी हाडवेयर की इकाइयों को भी छूट दी गई है…
  • प्रिंट, इलेक्ट्रोनिक मीडिया, आइटी सेवाओं, कॉल सेंटर, कोल्ड स्टोरेज, वेयरहाउसिंग सेवाओं और निजी सुरक्षा गार्ड को काम करने की छूट दी गई है…
  • केवल वही कंस्ट्रक्शन का काम होगा, जहां मजदूरों के रहने की व्यवस्था होगी.. वे बाहर से मजदूर लाकर काम नहीं कर सकेंगे…
  • मॉल और बाजार बंद रहेंगे… लेकिन कालोनी, रिहाइशी और अलग-थलग वाली सभी दुकानों को खोलने की अनुमति दे गई है…
  • सभी निजी आफिस को खोलने की इजाजत दी गई है, लेकिन केवल 33 फीसदी स्टाफ के साथ काम करेंगे….बाकि स्टाफ घर से काम करेगा..
  • बैंक, इंश्योरेंस समेत सभी तरह की फाइनेंशिल गतिविधियों पूरी तरह चालू रहेंगी..