झारखंड- CRPF काफिले पर नक्सली हमला, IED ब्लास्ट की चपेट में आए 15 जवान घायल

नई दिल्ली: झारखंड के सरायकेला में नक्सलियों ने मंगलवार को बड़ी घटना को अंजाम दिया हैं सुरक्षा बल और पुलिस का दस्ता स्पेशल ऑपरेशन पर था. इसी बीच IED धमाका हुआ जिसमें कोबरा बटालियन और झारखंड पुलिस के 15 जवान जख्मी हो गए.

हमला कोबरा बटालियन और झारखंड पुलिस पर किया गया- ये हमला कुचाई इलाके में 209 कोबरा बटालियन और झारखंड पुलिस की टुकड़ी पर किया गया. बताया जा रहा है करीब 5:00 बजे 209 कोबरा झारखंड पुलिस ने संयुक्त अभियान चलाया था

घायल जवानों को किया गया रांची एयरलिफ्ट- जवानों की गंभीर स्थिति को देखते हुए मंगलवार सुबह 6.50 में उन्हें रांची एयरलिफ्ट किया गया. जिस इलाके में माओवादियों ने धमाके कर पुलिस को निशाना बनाने की कोशिश की, वहां पर चुनाव समाप्ति के ठीक दूसरे दिन भी सुरक्षाबलों पर नक्सलियों ने हमला किया था.

भाकपा माओवादियों का सुप्रीमो नंबला केशवराव उर्फ बसवाराज झारखंड में संगठन को मजबूत करने के लिए सरायकेला-खरसांवा के इलाके में बैठक कर चुका है. बसवाराज ने इसकी जिम्मेदारी 25 लाख के ईनामी पतिराम मांझी उर्फ अनल को दी है.

मिलिट्री कमीशन में अनल को प्रमोशन दिया गया है. अनल वर्तमान में 15 लाख के ईनामी महाराज प्रमाणिक और दस लाख के ईनामी अमित मुंडा के साथ इलाके में कैंप कर रहा है. इन्हीं नक्सलियों की ओर से इस इलाके में पुलिस पर लगातार हमला किया जा रहा है.

हाल की घटनाओं में ये सबसे गंभीर मामला है- क्योंकि नक्सलियों ने सुरक्षा दस्ते पर आईईडी धमाका कर बड़ी नुकसान की योजना बनाई थी. हालांकि उग्रवादी अपने मंसूबे में कामयाब नहीं रहे.

सरायकेला माना जाता है नक्सलियों का बड़ा अड्डा- सरायकेला नक्सलियों का अड्डा माना जाता है. यहां हमेशा कोई न कोई घटना सामने आती है. 20 मई को सरायकेला जिले में एक नक्सली हमले में तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए.

3 मई को भी हुआ था नक्सली हमला- इससे पहले 3 मई को नक्सलियों ने झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा के सरायकेला जिले में स्थित चुनाव कार्यालय को बम से उड़ा दिया. इस घटना में हालांकि कोई हताहत नहीं हुआ.

नई दिल्ली: झारखंड के सरायकेला में नक्सलियों ने मंगलवार को बड़ी घटना को अंजाम दिया हैं सुरक्षा बल और पुलिस का दस्ता स्पेशल ऑपरेशन पर था. इसी बीच IED धमाका हुआ जिसमें कोबरा बटालियन और झारखंड पुलिस के 15 जवान जख्मी हो गए.

हमला कोबरा बटालियन और झारखंड पुलिस पर किया गया- ये हमला कुचाई इलाके में 209 कोबरा बटालियन और झारखंड पुलिस की टुकड़ी पर किया गया. बताया जा रहा है करीब 5:00 बजे 209 कोबरा झारखंड पुलिस ने संयुक्त अभियान चलाया था

घायल जवानों को किया गया रांची एयरलिफ्ट- जवानों की गंभीर स्थिति को देखते हुए मंगलवार सुबह 6.50 में उन्हें रांची एयरलिफ्ट किया गया. जिस इलाके में माओवादियों ने धमाके कर पुलिस को निशाना बनाने की कोशिश की, वहां पर चुनाव समाप्ति के ठीक दूसरे दिन भी सुरक्षाबलों पर नक्सलियों ने हमला किया था.

भाकपा माओवादियों का सुप्रीमो नंबला केशवराव उर्फ बसवाराज झारखंड में संगठन को मजबूत करने के लिए सरायकेला-खरसांवा के इलाके में बैठक कर चुका है. बसवाराज ने इसकी जिम्मेदारी 25 लाख के ईनामी पतिराम मांझी उर्फ अनल को दी है.

मिलिट्री कमीशन में अनल को प्रमोशन दिया गया है. अनल वर्तमान में 15 लाख के ईनामी महाराज प्रमाणिक और दस लाख के ईनामी अमित मुंडा के साथ इलाके में कैंप कर रहा है. इन्हीं नक्सलियों की ओर से इस इलाके में पुलिस पर लगातार हमला किया जा रहा है.

हाल की घटनाओं में ये सबसे गंभीर मामला है- क्योंकि नक्सलियों ने सुरक्षा दस्ते पर आईईडी धमाका कर बड़ी नुकसान की योजना बनाई थी. हालांकि उग्रवादी अपने मंसूबे में कामयाब नहीं रहे.

सरायकेला माना जाता है नक्सलियों का बड़ा अड्डा- सरायकेला नक्सलियों का अड्डा माना जाता है. यहां हमेशा कोई न कोई घटना सामने आती है. 20 मई को सरायकेला जिले में एक नक्सली हमले में तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए.

3 मई को भी हुआ था नक्सली हमला- इससे पहले 3 मई को नक्सलियों ने झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा के सरायकेला जिले में स्थित चुनाव कार्यालय को बम से उड़ा दिया. इस घटना में हालांकि कोई हताहत नहीं हुआ.

%d bloggers like this: