युवा बन रहे HYPER ACIDITY का शिकार
  • शहरी क्षेत्रों में 61 फीसदी लोगों को कभी न कभी हाइपर एसिडिटी से संबंधित मामलों का सामना करना पड़ा है
  • भारत के प्रमुख एंटासिड ब्रैंड्स में से एक एबॅट इंडिया लिमिटेड के रिसर्च में यह बात सामने आई है

भारत के नौजवान हाइपर एसिडिटी के शिकार का हो रहे हैं. यह खुलासा नए शोध हुआ है. इसका मुख्य कारण व्यस्त जीवनशैली और तनाव बताया जा रहा है. 

शहरी क्षेत्रों में 61 फीसदी लोगों को कभी न कभी हाइपर एसिडिटी से संबंधित मामलों का सामना करना पड़ा है. भारत के प्रमुख एंटासिड ब्रैंड्स में से एक एबॅट इंडिया लिमिटेड के रिसर्च में यह बात सामने आई है. 

कंपनी का दावा है नए जमाने की बीजी लाइफस्टाइल के कारण होने वाली हाइपर एसिडिटी के लिए डाइजिन दवा वैज्ञानिक रूप से प्रमाणित समाधान है. एबॅट इंडिया लिमिटेड के प्रबंध निदेशक अंबाती वेणु के अनुसार रिसर्च से पता चलता है कि हाइपर एसिडिटी का प्रमुख कारण व्यस्त और अनियमित जीवनशैली है.

यह शहरी उपभोक्ताओं में आम बात है. डाइजीन प्रॉडक्ट को हाई एसिड न्‍यूट्रलाइजिंग क्षमता के जरिए विज्ञान द्वारा प्रमाणित किया गया है. मूल रूप से कई कस्टमर्स की उम्र और उनके शरीर के आकार के आधार पर उनमें हाइपर एसिडटी से संबंधित समस्याएं जन्म लेती है. 

नए रिसर्च से पता चला है कि लाइफस्टाइल के कारण हाइपर एसिडिटी के मामले बढ़े हैं. शहरी जीवन के दबाव के कारण लोगों को कई बार बाहर से ही खाना खरीदकर खाना पड़ता है. इसी कारण शहरों में लोगों के खाने की आदतें अनियमित होती हैं.

इससे लोगों में तनाव काफी बढ़ जाता है. रिसर्च के आंकड़ों से यह साफ है कि एसिडिटी के बढ़ते मामलों के शिकार 70 फीसदी लोगों की उम्र 50 साल से कम है. हाइपर एसिडिटी और उससे जुड़े बहुत से मामले लाइफ स्टाइल से जुड़े हुए हैं. 

इस तरह के मामले नौजवानों में काफी तेजी से बढ़े हैं. डाइजीन हाइपर एसिडिटी की बढ़ती समस्या के लिए बिल्‍कुल अनकूल है. डॉक्टरों द्वारा प्रिसक्राइब किया गया एंटासिड है. 

डाइजीन में हाइ एसिड न्‍यूट्रलाइजिंग कैपेसिटी (एएनसी) 5 होती है, जो व्यक्ति के पेट में एसिड को कम करके राहत प्रदान करती है. एबॅट में मेडिकल अफेयर्स के डायरेक्टर डॉ. श्रीरूपा दास का कहना है कि डाइजीन मरीज को तेज और प्रभावी राहत मुहैया करती है. 

इसमें सक्रिय तत्व होते हैं, जिससे हाइपर एसिडिटी के लक्षणों से राहत मिलती है. खाने को पचाने में पेट को मदद मिलती है. इससे पेट को काफी राहत मिलती है. जिससे लोग जल्दी ही बीमारी से निजात पाकर अपनी नियमित जिंदगी जीने लगते हैं.

हिन्दुस्थान समाचार/ विनय/राजबहादुर

Trending Tags- hyper acidity symptoms, hyperacidity, hyperacidity treatment, acidity problem, acidity problem solution, how to reduce acidity and gas problem, Acidity precaution

%d bloggers like this: