यूपीः बीमार पत्नी से छुटकारा पाने के लिए पति ने नदी में फेंका, आरोपित गिरफ्तार

Drown
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

बलरामपुर, यूपी।

भारत में शादी का मतलब 7 जन्मों का रिश्ता होता है. पति-पत्नी हर मोड पर एक दूसरे का साथ निभाते हैं. लेकिन यूपी के बलरामपुर में एक ऐसा मामला सामने आया है. जिससे ये रिश्ता ही शर्मसार हो गया है. दरअसल यहां के पचपेड़वा थाना इलाके में एक युवक ने अपनी बीमार पत्नी को नदी में फेंक दिया.

आरोपी ने अपनी बीमार पत्नी से छुटकारा पाने के लिए उसके हाथ-पैर बांधकर राप्ती नदी में फेंककर मुम्बई भाग गया. मृतक महिला की मां की तहरीर पर पुलिस ने जांच कर मामले का खुलासा सोमवार को कर दिया है.

थाना प्रभारी राजकुमार सरोज ने बताया 11 सितम्बर को मनोहरपुर गांव में रहने वाले परशुराम निवासी माया देवी ने बताया कि 28 वर्षीय बेटी सोनी की शादी ग्राम गनवरिया निवासी दिनेश चौरसिया के साथ सात वर्ष पूर्व किया था. कुछ दिन पहले दमाद ने फोन कर यह बताया कि उनकी बेटी सोनी बीमारी की वजह से मुम्बई में मौत हो गयी है.

इसके बाद महिला माया ने बताया कि उनकी लड़की को मिर्गी की बीमारी थी कि मेरे दामाद ने मेरी लड़की को जान से मार दिया है. पुलिस ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरु कर दी है. इस बीच जनपद के सिद्धार्थनगर के गोल्हौरा थाना क्षेत्र में एक अज्ञात महिला का शव बरामद हुआ था.

परिवार के मृतक महिला की फोटो कपड़ से शव की शिनाख्त कर ली. इसके बाद पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर आरोपित दिनेश चौरसिया को त्रिलोकपुर से गिरफ्तार कर लिया.

अभियुक्त ने अपना जुर्म कबूल कर बताया कि पत्नी के बीमारी से छुटकारा पाने के लिए 24 अगस्त की रात्रि में डुमरियागंज राप्ती नदी के पुल के पास मारकर हाथ पैर व गला बांध कर नदी में फेंक दिया और वहां से मुंबई भाग गया था. आरोपित को पुलिस ने जेल भेज दिया है.

हिन्दुस्थान समाचार/प्रभाकर