छत्तीसगढ़ में पकड़े गए मानव तस्कर, 33 बच्चे बरामद

छत्तीसगढ़ के जिला राजनांदगांव स्टेशन पर पुलिस की सक्रियता से हावड़ा मुंबई मेल से 33 बच्चे उतारे जाते हैं. पता चलता है कि ये सभी बच्चों को मानव तस्करी के लिए ले जाया जा रहा था. पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

पेशे से वकील स्मिता पांडे की समझदारी से एक मानव तस्करी का बड़ा कांड सामने निकलकर आया. रायपुर रेलवे स्टेशन से बैठी स्मिता पांडे ने सभी 33 बच्चों को देख उन्हें शंका हुई जिनकी जानकारी रेलवे पुलिस को दी. ट्रेन रायपुर से छूटने के बाद सीधा राजनांदगाव पर रुकी जहां पहले मोर्चा संभाले रेलवे पुलिस और छत्तीसगढ़ पुलिस ने सभी बच्चों को प्लेटफार्म नम्बर 2 पर उतारा गया.

जिले में मानव तस्करी का बड़ा मामला निकलकर सामने आया है जहां हावड़ा मुंबई मेल से 33 छोटे- छोटे बच्चों को लेकर बिहार राज्य के भागलपुर ग्राम से मुंबई के नन्दूरबार ले जाया जा रहा था. पुलिस ने मानव तस्कर करने वाले एक आरोपी को रेलवे स्टेशन पर ही धर-दबोचा.

इस घटना की सूचना मिलते ही राजनांदगांव रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर 2 पर हड़कंप मच गया. वहीं सभी बच्चों को रेलवे स्टेशन में पुलिस और RPF की मदद से उतारा गया. बिहार से बच्चों को मुंबई के महानगर में काम करने के लिए ले जाया जा रहा था. सभी बच्चे 6 वर्ष से 13 वर्ष के उम्र की है. सभी 33 बच्चों को चाइल्ड केयर मंगल भवन में रखा गया. सभी बच्चो से बयान लेकर आगे की कार्यवाही की जाएगी.


हिन्दुस्थान समाचार/ मनोज

1 thought on “छत्तीसगढ़ में पकड़े गए मानव तस्कर, 33 बच्चे बरामद”

Leave a Reply

%d bloggers like this: