कोरोना के साथ इस बीमारी के नियंत्रण को तत्पर हावड़ा निगम

Coronavirus
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

कोलकाता. जानलेवा कोरोना संकट के साथ-साथ जिले में डेंगू का संक्रमण ना फैले इसलिए पहले से ही हावड़ा नगर निगम ने एहतियाती कदम उठाना शुरू कर दिया है.

कोरोना संक्रमित रोगियों के बारे में पता लगाने के साथ-साथ डेंगू संक्रमण के बारे में भी खोज खबर ली जा रही है. मच्छर से फैलने वाले डेंगू रोकथाम के लिए क्षेत्र की साफ-सफाई, निकासी नाले की सफाई से लेकर किसी भी तरह से पानी ना जमें इसके लिए व्यवस्थाएं करने और लोगों को जागरूक करने का काम शुरू कर दिया गया है.

हावड़ा नगर निगम सूत्रों की तरफ से बताया गया है कि निगम के 1993 कर्मचारी शहर के कोरोना संक्रमित क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं. लोगों से पूछताछ की जा रही है जिसमें मूल रूप से यह पता लगाने की कोशिश हो रही है कि किसी को सर्दी खांसी बुखार और सांस लेने में तकलीफ जैसे लक्षण तो नहीं हैं. मूल रूप से कोरोना संक्रमण के बारे में पता लगाने के साथ-साथ यह भी ध्यान रखा जा रहा है कि इस मौसम में डेंगू का संक्रमण न फैले.

हावड़ा नगर निगम में शहर के 57 निकासी नालों की सफाई शुरू कर दी है. नगर निगम की गाड़ियों को लेकर शहर के विभिन्न क्षेत्रों को जीवाणु मुक्त करने का काम भी शुरू कर दिया गया है. कोरोना के साथ डेंगू के लारवा को खत्म करने वाले रसायनों का छिड़काव भी शुरू हुआ है. क्षेत्र में अगर किसी को डेंगू तथा कोरोना जैसे लक्षण हैं तो उसके नमूने को दोनों ही बीमारियों के लक्षण जांचने के लिए संग्रहित किए जा रहे हैं. नगर निगम के कर्मचारी 35 थर्मल गन लेकर क्षेत्र में घूम रहे हैं जिससे निवासियों के शरीर के तापमान को मापा जा रहा है.

दरअसल पश्चिम बंगाल में हर साल बारिश की शुरुआत होने के साथ ही डेंगू का संक्रमण भी शुरू हो जाता है. इससे भी सैकड़ों लोगों की जान जाती है. मूल रूप से साफ-सफाई नहीं होने और पानी आदि जमने की वजह से मच्छरों के लारवा पनपते हैं जिससे डेंगू फैलता है. कुल मिलाकर कहें तो कोरोना के साथ-साथ डेंगू पर भी लगाम लगाने के लिए हावड़ा नगर निगम पहले से ही सजग है.

हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश