द्वारिकाधीश में होने जा रहा है खास आयोजन, ये हैं तारीखें….

नई दिल्ली: मथुरा का द्वारिकाधीश मंदिर दुनियाभर में मशहूर है. इस मंदिर में हर साल देश-विदेश के लाखों श्रद्धालु दर्शन करने आते हैं. मंदिर में 17 जुलाई से 14 अगस्त तक घटाओं और हिंडलों का विशेष आयोजन किया जाता है. जिसके लिए खास तैयारियां शुरु हो गई हैं.

मंदिर के समाधानी ब्रजेश चतुर्वेदी के अनुसार इन तारीखों को हिंडोलों के होगें दर्शन-

  • 17 जुलाई- स्वर्ण हिंडोला,
  • 18 जुलाई- फिरोजी जरी हिंडोला,
  • 19 जुलाई- फिरोजी मखमल हिंडोला,
  • 20 जुलाई- केसरी चित्रकाम हिंडोला,
  • 21 जुलाई- लाल हिंडोला,
  • 22 जुलाई- स्वर्ण-चांदी,
  • 23 जुलाई- श्याम मखमल,
  • 24 जुलाई- गुलाबी मखमल
  • 25 जुलाई- नीले कपड़े और मोती हिंडोला
  • 26 जुलाई- कली का हिंडोल
  • 27 जुलाई- पचरंगी फलों का हिंडोला
  • 28 जुलाई- फूलों का हिंडोला
  • 29 जुलाई- बगीचा हिंडोला
  • 31 जुलाई- कुंड हिंडोला
  • 5 अगस्त- आसोपालव हिंडोला
  • 7 अगस्त- केले का हिंडोला
  • 9 अगस्त- पान का हिंडोला
  • 11 अगस्त- पवित्र हिंडोला
  • 13 अगस्त- फूलों का हिंडोला, भोग संध्या
  • इन तारीखों को होगा घटाओं का आयोजन-
  • 30 जुलाई- केसरी घटा
  • 1 अगस्त- हरी घटा
  • 2 अगस्त- सोसनी घटा
  • 4 अगस्त- आसमानी घटा
  • 6 अगस्त- गुलाबी घटा
  • 8 अगस्त- लाल घटा
  • 10 अगस्त- श्याम घटा
  • 12 अगस्त- लहरिया घटा
  • 14 अगस्त- सफेद घटा को दर्शन के लिए खोला जाएगा.

सावन शुरु होते ही द्वारिका में उत्सव का माहौल शुरु हो जाता है. सावन के महीने में भगवान को झूला झुलाया जाता है. ठाकुर द्वारिकाधीश को रजत और स्वर्ण हिंडोलों में झुलाया जाता है. ऐसा माहौल देखने के लिए भक्तों की हर साल भारी भीड़ उमड़ती है.

द्वारिकाधीश को सावन के महीने में गुलाबी रंग में रंग दिया जाता है. इसी के चलते भगवान द्वारिकाधीश के लिए अलग-अलग घटाओं का आयोजन किया जाता है.

सावन का महीना शुरु होते ही द्वारिकाधीश मंदिर में आयोजनों की महीने भर धूम रहती है. पूरे साल में बस सावन के महीने में खास तरह के आयोजन किए जाते हैं. अपने अराध्य भगवान के दर्शन कर श्रद्धालु अपने जीवन को सुखमय करने की प्रार्थना करते हैं.

Leave a Reply

%d bloggers like this: