रानू मंडल पर बयान के बाद ट्रोल हुई थीं लता मंगेशकर, अब हिमेश ने ऐसे किया बचाव

नई दिल्ली: रेलवे स्टेशन से रातोंरात स्टार बनी रानू मंडल पर पिछले दिनों लता मंगेशकर ने एक बयान दिया था. हिमेश की मदद से रानू ने म्यूजिक इंडस्ट्री में डेब्यू कर लिया है. लता के बयान पर फैंस ने आपत्ति जताई थी.

हिमेश ने अब लता के उस बयान का बचाव किया है. दरअसल लता मंगेशकर ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि अगर मेरे नाम से और काम से किसी का भला होता है तो मैं अपने आप को खुशकिस्मत समझती हूं. उन्होंने कहा कि किसी के जैसा होना आपको लंबे वक्त तक सफलता नहीं देता है.

आगे उन्होंने कहा कि मेरे, किशोर दा, रफी साहब के गाने, मुकेश भइया, आशा के गानों को गाने से कम वक्त के लिए किसी का ध्यान खींचा जा सकता है. लेकिन ये आख‍िर तक नहीं रहता है. रानू के गाने तेरी मेरी कहानी के लॉन्च इवेंट पर हिमेश से पूछा गया कि उनका लता के बयान पर क्या कहना है. इस पर हिमेश ने जवाब दिया कि लता जी के कमेंट को सही संदर्भ में लेना चाहिए. रानू लता से इंस्पायर्ड हैं लेकिन कोई उनकी तरह लेजेंड्री नहीं है.

उन्होंने कहा कि लता मंगेशकर बेस्ट हैं. लता जी के बोलने का मतलब था कि आप किसी से इंस्पायर हो सकते हो, ये अच्छी बात है. लेकिन ये जरुरी नहीं कि आप किसी को सीधे कॉपी करें. जो कि रानू ने नहीं किया है.

किसी सिंगर के काम से प्रेरित होने और उसे कॉपी करने में बहुत फर्क होता है. आज अरिजीत सिंह एक महान सिंगर हैं. अगर कोई एकदम उनकी तरह गाने लगेगा तो ये ज्यादा काम नहीं करेगा. आखिरकार, एक प्रेरणा बेहद महत्वपूर्ण है.

हिमेश ने कहा- ”हम सब किसी ना किसी से प्रेरित हैं. जब मैं हाई पिच सिंगिंग करता हूं तो लोग कहते हैं मैं नाक से गा रहा हूं. लेकिन कहीं ना कहीं इंटरनेशनल सिंगिंग हमेशा नाक से होती थी. जो कि आजकल कॉमन बात है. रानू मंडल पैदा ही टैलेंटेड हुई थीं.”

बता दें रानू मंडल पर बयान देने के बाद लता मंगेशकर को ट्रोल किया गया था. यूजर ने लिखा रानू आपकी नकल नहीं कर रही हैं. वो तो बेहद निचले तबके से आती हैं. वो तो अपना गाना बना तक नहीं सकती थीं. स्टेशन में गाया करती थीं. जब‍कि रानू मंडल ने कहा कि वो लता को अपनी प्रेरणा मानती हैं.”

Leave a Reply

%d bloggers like this: