हिमाचल के तीन जिलों में पारा शून्य से नीचे पहुंचा

शिमला, हिमाचल प्रदेश।

हिमाचल प्रदेश में ठंड का प्रकोप बढ़ता जा रहा है. राज्य के कई हिस्सों का तापमान शून्य से नीचे बना हुआ है. सोमवार को तीन जिलों लाहौल-स्पीति, किन्नौर और कुल्लू में तापमान माइनस में दर्ज किया गया.

लाहौल-स्पीति का केलंग राज्य में सबसे सर्द स्थल रहा, जहां पारा -9.7 डिग्री सेल्सियस रहा. किन्नौर के कल्पा में न्यूनतम तापमान -1.6 डिग्री और पर्यटन नगरी मनाली में -0.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. जनजातीय इलाकों में ठंड के कहर से प्राकृतिक जलस्त्रोतों का पानी जम गया है.

ऐसे में इन क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के समक्ष पीने के पानी की समस्या खड़ी हो गई है. ठंड का आलम यह है कि राज्य के नौ शहरों का तापमान छह डिग्री सेल्सियस से नीचे पहुंच गया है. 

मौसम विभाग ने 8 दिसंबर तक मौसम के साफ रहने की संभावना जाहिर की है. इससे दिन का मौसम तो सुहावना रहेगा, लेकिन रात की ठंड में कोई कमी नहीं आएगी. 

मौसम विभाग के मुताबिक भुंतर में न्यूनतम तापमान 1.5, सुंदरनगर में 1.9, सोलन में 2.8, कुफरी में 3.1, पालमपुर में 3.5, चंबा में 3.6, शिमला में 5, कांगड़ा व डल्हौजी में 5.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ. इसके अतिरिक्त धर्मशाला में 6.6, उना में 7.2, बिलासपुर में 7.5, हमीरपुर में 7.8, मंडी में 8.2 और नाहन में 10.8 डिग्री सेल्सियस रहा. 

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक मनमोहन सिंह ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ अभी मंद पड़ा है. इस कारण 8 दिसंबर तक राज्य में बारिश-बर्फबारी का अनुमान नहीं है. इस दौरान अधिकतम तापमान सामान्य रहेगा, लेकिन न्यूनतम तापमान में गिरावट आने की संभावना है. 

हिन्दुस्थान समाचार/उज्जवल

Leave a Reply