GOLD QUEEN बनीं हिमा दास…

भारतीय स्टार धाविका हिमा दास अपने प्रदर्शन से लगातार चौंका रही हैं. उनका दमदार प्रदर्शन जारी है.

अपने बेहतरीन प्रदर्शन की बदौलत हिमा दास ने दो हफ्तों से भी कम समय में तीन गोल्ड मैडल अपने नाम कर लिए हैं.

हिमा ने महिलाओं की 200 मीटर की दौड़ में लगातार तीसरा मेडल हासिल किया है. ये कारनामा उन्होंने सिर्फ 11 दिनों के भीतर करके दिखाया है. हिमा चेक रिपब्लिक में चल रहे क्लाद्नो मेमोरियल एथेलेटिक्स मीट में हिस्सा ले रही हैं. यहीं उन्होंने ये कारनामा हासिल किया है.

हिमा ने 200 मीटर की रेस को सिर्फ 23.43 सेकेंड्स में हासिल किया है. इससे पहले हिमा पिछले हफ्ते 2 और 6 जुलाी को पोलैंड में कुट्नो एथलेटिक्स मीट में 200 मीटर में दो गोल्ड मेडल जीत चुकी हैं.

वैसे हिमा पिछले कुछ समय से पीठ की समस्या से पीडि़त हैं. इसके बावजूद उनके इस जबरदस्त प्रदर्शन ने सभी को चौंका दिया है.

हिमा ने इससे पहले पोलैंड में ही पोजनान एथलेटिक्स ग्रां प्री में गोल्ड जीता था. विस्मया अपना निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन (23.75 सेकंड) करके तीसरे स्थान पर रही थी. हिमा मौजूदा विश्व जूनियर चैम्पियन और 400 मीटर में राष्ट्रीय रिकॉर्डधारी हैं.

इनके अलावा नेशनल रिकॉर्ड होल्डर मोहम्मद अनस ने भी 400 मीटर रेस में सोना जीता. 400 मीटर की इस रेस को अनस ने सिर्फ 45.21 सेकेंड्स में पूरा कर लिया.

गौरतलब है कि हिमा दास का जन्म 9 जनवरी 2000 को हुआ था. वो असम गांव के नागाव जिले से ताल्लुक रखती हैं.

हिमा के पिता रोंजित दास किसानी करते हैं, जबकि उनकी माता जोमाली दास गृहणी हैं के अलावा 5 भाई और बहन हैं. इनके परिवार की आर्थिक स्थिति बेहद खराब रही है.

हिमा ने अपनी शुरूआती पढा़ई गांव से ही की है. खेलों में रूचि होने और पैसों की तंकी के कारण हिमा पढ़ाई जारी नहीं रख सकीं.

Leave a Comment

%d bloggers like this: