उत्तराखंडः भूस्खलन का मलबा आने से गंगोत्री राजमार्ग 24 घंटे से ठप्प

Landslide in Uttarakhand
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

उत्तरकाशी, उत्तराखंड।

उत्तराखंड में पिछले कुछ दिनों से जारी मूसलाधार बारिश से प्रदेश के कई इलाकों में भूस्खलन हुआ है. भूस्खलने की वजह से राज्य के कई राजमार्गों पर यातायात बाधित हो गया है. सामरिक दृष्टि से अति महत्वपूर्ण गंगोत्री राजमार्ग दो दिनों से लगातार बंद पड़ा हैं. इससे चीन सीमा का पूरा संपर्क कट गया है.

सोमवार रात को हुई मूसलाधार बारिश के चलते गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर थिरांग,रीडर और डबरानी के पास पहाड़ी दरकने से राजमार्ग पर भारी भरकम मलबा आ रखा है. इसके कारण उपला टकनोर क्षेत्र के दर्जनों गांवों का सम्पर्क तहसील मुख्यालय से कट गया है.

बीआरओ के मजदूर युद्ध स्तर पर मार्ग खोलने में जुटे हुए हैं. आज शाम तक ही राष्ट्रीय राजमार्ग खुलने की उम्मीद जताई जा रही है. गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग सुबह लगभग 24 घण्टे से बन्द है. दोनों तरफ गाड़ियों की कतार लगी है. 

वहीं रविवार को कुमाऊं में हुए भूस्खलन में चीन बॉर्डर पर जा रहे सेना के जवान फंस गए थे. उन्हें मलबे से अपनी जान बचाने के लिए दौड़ लगानी पड़ी थी. लगातार हो रहे भूस्खलन से सेना और आईटीबीपी के जवानों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. सभी रास्ते बंद होने के कारण उन्हें मीलों तक अपने सामान के साथ पैदल ही जाना पड़ रहा है. भूस्खलन से कैलाश मानसरोवर मार्ग फिर से बाधित हो गया है.

 हिंदुस्थान समाचार/चिरंजीव सेमवाल