मुंबई में आफत की बारिश से राहत नहीं, सार्वजनिक यातायात सेवाएं ठप्प

मुंबई: तीन दिनों से जारी भारी बरसात ने एक बार फिर से मुंबई की रफ्तार को ठप कर दिया है. आम जनजीवन के साथ ही सार्वजनिक यातायात भी प्रभावित हो गया है. मुंबई, नवी मुंबई, ठाणे, कल्याण, रायगढ़, पनवेल, समेत पूरे कोंकण क्षेत्र में शुक्रवार देर रात से लगातार भारी बारिश हो रही है.

कई इलाकों में श़ॉर्ट सर्किट के साथ ही घर और पेड़ गिरने की खबर है. भारी बारिश के कारण विभिन्न हादसों में दो छात्राओं समेत तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि दो छात्राएं अभी भी लापता हैं.

गोरेगांव में पहाड़ी धसकने से चार लोग घायल हुए हैं. मौसम विभाग ने मुंबई में सोमवार सुबह तक भारी बारिश के साथ ही हाईटाइड का अलर्ट जारी किया है. स्कूल-कॉलेजों को बंद कर दिया गया है.

शुक्रवार से ही जारी भारी बारिश के चलते मुंबई शहर में आवागमन ठप पड़ गया है. महानगर में सड़क और रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित हुआ है. सड़कों और रेलवे ट्रैक पर जलभराव हो गया है, हवाई उड़ान सेवाएं भी प्रभावित हुई हैं.

मध्य रेलवे (सेंट्रल रेलवे) की सायन से कुर्ला के बीच सभी चार लाइनों पर लोकल सेवाएं सुबह 7.20 बजे से निलंबित कर दी गई हैं. भारी बारिश से के उपनगरीय सेवाओं के अलग-अलग सेक्शंस पर पानी जमा है. मध्य रेलवे ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि हर 30 मिनट में स्थिति की समीक्षा की जा रही है.

मौसम विभाग (आईएमडी) की ओर से अगले 24 घंटों में भारी बारिश की चेतावनी दी गई है. इसके अलावा आज 4.85 मीटर की हाईटाइड आने का अलर्ट दिया गया है. मुंबई शहर में 146 मिमी, पूर्वी उपनगर में 195 मिमी और पश्चिम उपनगर में 195 मिमी, बरसात हुई है.

मुंबई और आसपास के इलाके में रेलवे ट्रैक पर पानी जमा होने की वजह से कई ट्रेनों को कैंसल कर दिया गया है, जबकि कई ट्रेनों का रूट बदला गया है. लगातार बारिश से कसारा, कर्जत और कल्याण रेलवे स्टेशन पर जलभराव की स्थिति पैदा हो गई है. शनिवार को कई स्टेशन की रेल पटरियों पर पानी भर गया था.

मध्य रेलवे की मुंबई छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (सीएसएमटी) से ठाणे-कल्याण-कसारा-कर्जत के साथ ही पनवेल से वसई तक की लोकल रेल सेवाओं को बंद करना पड़ा था. इसी तरह, पश्चिम रेलवे की लोकल ट्रेनें भी विलंब से चलाई जा रही थीं. पश्चिम रेलवे ने कई लोकल सेवाओं की बारंबारता घटा दी है.

पालघर से नाला सोपारा के बीच भारी बारिश के बाद लोगों के घरों में पानी घुस गया है. लंबी दूरी की ट्रेनों को कैंसल किए जाने से रेलवे की ओर से रिफंड दिए जाने की घोषणा की गई है. पालघर और ठाणे में भी बरसात के कारण शनिवार को स्कूल-कॉलेज बंद कर दिए गए हैं.

रेल पटरियों के कारण रेल सिग्नल भी प्रभावित हुए, जिसके कारण लोकल ट्रेनें धीमी चल रही थीं. कसारा से कल्याण के बीच की दूरी तय करने में लोकल ट्रेनों को तीन घंटे से अधिक का समय लगा. कार्यालय जाने वालों पर अधिक प्रभाव पड़ा है.

ठाणे में मुंब्रा के ठाकुर पाड़ा इलाके में भारी बारिश से हनुमान मंदिर के पास एक घर ढह गया. इसमें 17 साल का लड़का घायल हो गया. मौके पर मौजूद फायर ब्रिगेड की टीम ने आसपास के घरों को भी खाली करा दिया है.

मुंबई के सायन सर्किल के पास की एक इमारत गिर गई. हालांकि कोई घायल नहीं हुआ. गोरेगांव के राजीव गांधी नगर में भूस्खलन होने की घटना सामने आई है. इसमें चार लोगों के घायल होने की खबर है. घायलों के नाम मोहम्मद हुसैन शेख (15 वर्ष), जुबेदा बानू शेख (70 वर्ष), अहमद हुसैन शेख (14 वर्ष) और अब्दुल गफ़र शेख (42 वर्ष) बताए गए हैं.

हिन्दुस्थान समाचार/राधेश्याम

Leave a Comment