हाथरस कांडः परिवार से मिलने पहुंचे सपा नेताओं ने की नारेबाजी, पुलिस ने भांजी लाठियां

Samajwadi Party Workers
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

यूपी के हाथरस में हुए गैंगरेप केस में राजनीति जारी है. इस मामले में योगी सरकार को घेरने के लिए पूरा विपक्ष लामबंध हो गया है. पूरे मामले से पर्दा हटाने के लिए और निष्पक्ष जांच के लिए योगी सरकार ने सीबीआई जांच की सिफारिश की है. वहीं विपक्ष फिर भी सरकार को घेरने में लगा है.

इस घटना को लेकर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने आज (रविवार को) प्रदेश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के बाद सपा नेताओं ने भी पीड़ित परिवार से मुलाकात की. सपा नेता धर्मेंद्र यादव, अक्षय यादव अपने कार्यकर्ताओं के साथ पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे.

पीड़ित परिवार से मुलाकात के दौरान समाजवादी कार्यकर्ताओं ने राजनीतिक नारेबाजी शुरू कर दी. जिसका पुलिस ने विरोध किया. सपा कार्यकर्ताओं ने पीड़ित परिवार से मुलाकात के बहाने राजनीति चमकाने की कोशिश की. वे वहां योगी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे. प्रशासन ने जब उन्हें मना किया, तो वे भिड़ गए.

शांति-व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस ने भी लाठीचार्ज किया. जिसमें कई सपा कार्यकर्ताओं को चोट आई. वहीं भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर की गाड़ियां अलीगढ़ से हाथरस जाते हुए 20 किलोमीटर पहले रुकवा दी गई. पुलिस ने शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पूरे गांव को छावनी में तब्दील कर दिया है.

इससे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को पीड़ित परिवार से मिलने की इजाजत दी गई थी. जहां प्रियंका ने पीड़िता की मां से मुलाकात की. और पूरी मदद करने का आश्वासन दिया. कांग्रेस नेताओं के बाद पीड़ित परिवार से मिलने के लिए नेताओं का हूजुम उमड़ पड़ा है. तकरीबन सभी दलों के नेता पीड़ित परिवार से मिलने के लिए पहुंच रहे हैं.