हरियाणा: बहादुरगढ़ की फैक्ट्री में बॉयलर फटने से अब तक 4 लोगों की मौत, 30 घायल

  • घटना में पांच फैक्टरियाें में लगी आग, छतें ध्वस्त, कई श्रमिक अब भी लापता
  • एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें लगी हैं बचाव व राहत कार्य में

झज्जर, 29 फरवरी (हि.स.). बहादुरगढ़ के आधुनिक औद्योगिक क्षेत्र में हुए फैक्ट्री हादसे में मरने वालों की संख्या चार हो गई है. जबकि 30 से अधिक लोग घायल हैं. पांच श्रमिम अब भी लापता हैं. मौके पर एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें लगातार राहत और बचाव के कार्य में लगी हैं.

पुलिस ने 1815 नंबर फैक्ट्री के संचालक की शिकायत पर केमिकल फैक्ट्री के मालिकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर जांच-पड़ताल शुरू कर दी है. उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को बहादुरगढ़ की जूता फैक्टरी में बॉयलर फटने से पांच फैक्ट्रियाें में आग लग गई थी और पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है. हादसे के बाद से ही श्रमिकों के परिजन अपनों की तलाश में जुटे हुए हैं. कुछ के परिजन घायलों में मिल गए तो कई अब भी लापता है.

शनिवार को अपनों की तलाश में परिजनों की भीड़ लगातार बढ़ रही है. केमिकल फैक्ट्री में काम करने वाले दामोदर, सरोज, सूरज , राजकुमार और विवेक के बारे में अभी तक कोई सूचना नहीं मिली है. इनके परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. पुलिस भी गायब लोगों की जानकारी जुटाने में लगी है.

साथ ही मृतकों की पहचान कराने की कोशिश की जा रही है. एक मृतक नरेश की पहचान हुई है. वह 1815 नंबर फैक्टरी में काम करता था और फैक्ट्री में ही पत्नी-बच्चों के साथ रहता था. हादसे में उसकी पत्नी और बच्चा भी घायल हुए है.

राहत व बचाव कार्य के लिए जेसीबी के अलावा बड़ी पोकलेन मशीनों की जरूरत है, जो अभी तक मौके पर नहीं पहुंची है. पोकलेन मशीन के आने के बाद फैक्ट्री के ध्वस्त लेंटर को जल्दी हटाया जा सकेगा और तक बचाव कार्य में भी तेजी आएगी. सभी का फोकस इस समय अगर मलबे में कोई फंसा है तो उसे बचाने का है. घायलों में केमिकल फैक्टरी का मालिक राजन भी शामिल है. उन्हें अन्य घायलों के साथ अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

हिन्दुस्थान समाचार/प्रथम/बच्चन

Leave a Reply

%d bloggers like this: