hafiz saeed (file)

पाकिस्तान ने आतंकी संगठन जमात-उद-दावा (जेयूडी) के सरगना हाफिज सईद के साले और मुंबई हमले में वांछित अब्दुल रहमान मक्की को गिरफ्तार किया है.

समाचार पत्र डॉन के मुताबिक, अब्दुल रहमान मक्की की गिरफ्तारी पंजाब प्रांत के गुजरांवाला से हुई है. यह गिरफ्तारी जमात-उद-दावा (जेयूडी), फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन (एफआईएफ) और जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) से जुड़े 11 संगठनों पर प्रतिबंध लगने के कुछ दिन बाद हुई है.

मक्की ने गुजरांवाला में सरकार के खिलाफ भाषण दिया था. मक्की ने अपने भाषण में एफएटीएफ (फाइनेंसियल एक्शन टास्क फोर्स) के दिशानिर्देशों के अनुरूप उठाए गए कदमों की भी आलोचना की. वह जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन के लिए फंड जुटा रहा था. बहरहाल उसे लाहौर की जेल में रखा गया है.

आतंकी संगठन जमात-उद-दावा में मक्की का काफी प्रभाव है. वह दूसरी कमान के नेता में रूप में जाना जाता है. मक्की भारत के खिलाफ जहर उगलने के लिए ही जाना जाता है. भारत की मांग पर अमेरिका ने मक्की को आतंकी घोषित किया था.

मक्की के सिर पर करीब 13 करोड़ रुपये (20 लाख डॉलर) का इनाम है. मक्की तालिबान सरगना मुल्ला उमर और अलकायदा सरगना अल-जवाहिरी का भी बेहद करीबी रहा है.

पाकिस्तान ने जमात-उद-दावा (जेयूडी), फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन (एफआईएफ) और जैश-ए-मोहम्मद पर भी कार्रवाई की है. आतंकी संगठन पर कार्रवाई नेशनल एक्शन प्लान (एनएपी) के तहत हुई है.

हिन्दुस्थान समाचार / कृष्ण