गुरुग्राम: केंद्र सरकार के सहयोग से 30 एकड़ विकसित होगी विज्ञान सिटी

गुरुग्राम, 30 जनवरी (हि.स.). विश्व पटल पर अपनी पहचान बना चुके मिलेनियम सिटी गुरुग्राम में केंद्र सरकार की सहायता से कई बड़े प्रोजेक्ट शुरू किए गए हैं, जिसमें विज्ञान सिटी भी विकसित की जाएगी. इसकी स्थापना को लेकर गुरुवार को हरियाणा के साइंस एंड टेक्नोलॉजी विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव अमित झा ने अधिकारियों के साथ मंत्रणा की.

स्वर्ण जयंती पीडब्ल्यूडी विश्राम गृह में हुई एक बैठक के बाद बताया गया कि 25 से 30 एकड़ भूमि पर केंद्र सरकार के सहयोग से विज्ञान सिटी विकसित की जाएगी. साइंटिफिक प्रिंसिपल्स खेल-खेल में यहां बच्चों को सीखने का अवसर मिलेगा.

साइंस सिटी विकसित करने का उद्देश्य आम जनमानस को विज्ञान के बारे में जानकारी देना और विज्ञान शिक्षा को बढ़ावा देना है. इसमें विभिन्न साइंटिफिक थीम्स जैसे फिजिक्स, केमिस्ट्री आदि कंसेप्टस पर थीमेटिक गैलरियां बनाई जाएगी.

इसरो की स्पेस गैलरी भी होगी खास :
विज्ञान सिटी में इसरो की स्पेस गैलरी भी होगी, जिसमें बताया जाएगा कि उपग्रह को स्पेस में किस प्रकार लांच किया जाता है. इसरो द्वारा सिमुलेटर भी लगाए जाएंगे, जिसमें बैठकर विद्यार्थियों को यह एहसास होगा कि स्पेस में जाते हैं तो वहां पर कैसी फीलिंग आती है.

झा के अनुसार साइंस सिटी में इनोवेशन हब भी विकसित किया जाएगा, जिसमें विद्यार्थी नए आइडियाज पर काम कर सकेंगे. उन्हें इस हब में मेंटर भी मिलेगा, जो उनको गाइड करेगा. साइंस सिटी में इनफॉरमल-वे में साइंस सीखने का मौका मिलेगा. विज्ञान सीखने के अलावा साइंस सिटी विकसित होने से उस क्षेत्र के लोगों को डायरेक्ट और इनडायरेक्ट रूप से रोजगार के अवसर भी मुहैया होंगे.

साइंस सिटी के लिए गुरुग्राम में जगह चिन्हित करने तथा अन्य संबंधित कार्यों के लिए उपायुक्त अमित खत्री की अध्यक्षता में कमेटी गठित की जाएगी. बैठक में उपायुक्त के अलावा अतिरिक्त उपायुक्त प्रशांत पंवार, सोहना की एसडीएम डॉ. चिनार चहल, हरसक के चीफ साइंटिस्ट डॉ. सुल्तान सिंह तथा अन्य राजस्व अधिकारी उपस्थित रहे.

हिन्दुस्थान समाचार/ईश्वर

Leave a Reply

%d bloggers like this: