देश की हर दिन तेजी से बिगड़ी अर्थव्यवस्था बनी पीएम मोदी की चिंता, आज करेगें अर्थशास्त्रियों के साथ बैठक

नई दिल्ली. देश की अर्थव्यवस्था लगातार सुस्त होती जा रही है.पहले अंतरराष्ट्रीय रेटिंग एजेंसी फिच (FITCH) फिर डेवलपमेंट बैंक ऑफ़ सिंगापुर (डीबीएस) ने वित्त वर्ष 2019-20 के लिए भारत की सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर के अनुमान को घटा दिया.दोनों ने ही मोदी सरकार को जोरदार झटका दिया है.

इसी को देखते हुए पीएम मोदी देश की आर्थिक वृद्धि को गति देने आज अर्थशास्त्रियों के साथ बैठक करेगें.साथ ही देश की आर्थिक वृद्धि में तेजी कैसे लाई जाए इस पर चर्चा करेंगे.

नीति आयोग कर रहा है बठक का आयोजन-

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक इस बैठक का आयोजन नीति आयोग कर रहा है. इसमें विभिन्न मंत्रियों, नीति आयोग के अधिकारी, प्रमुख अर्थशास्त्री, क्षेत्र के विशेषज्ञ और उद्योगपति शामिल होंगे. यह बैठक हाल में जारी जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) वृद्धि के आंकड़े जारी होने के बाद हो रही है.
हाल ही में आएं केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) के आंकड़े के मुताबिक देश की कृषि और विनिर्माण क्षेत्रों में काफी कमजोरी आई है.दोनों ही क्षेत्रों ने 2018-19 की चौथी तिमाही में काफी बुरा प्रदर्शन किया है.इन क्षेत्रों की चौथी तिमाही में वृद्धि दर घटकर 5.8 प्रतिशत रही. जो कि 5 साल का सबसे न्यूनतम स्तर है.

तेजी से बढ़ रही है बेरोजगारी-

ऑटो और टूव्हीलर्स जैसे नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनियों (एनबीएफसी) पर निर्भर क्षेत्रों में कर्ज में सख्ती देखने को मिल रही है, जिससे सेल्स में कमी आई है.जिसके कारण आर्थिक वृद्धि में तेजी नहीं आ पा रही है.वहीं, फूड इनफ्लेशन स्थिर बनी हुई है, जबकि बीते साल यह निगेटिव रही थी. इससे किसानों की आय पर दबाव बढ़ा है.

अब नजर अगर बेरोजगारी के आंकड़ों पर डाली जाए तो सीएसओ के हाल ही में आंकड़े के मुताबिक 2017-18 में बेरोजगारी 45 साल के उच्च स्तर 6.1 प्रतिशत पर पहुंच गई है.

आरबीआई ने उठाया ये कदम-

आरबीआई ने भी सुस्त पढ़ी अर्थव्यवस्था में तेजी लाने के लिए कई कदम उठाये थे.लेकिन वो सभी कदम अर्थव्यवस्था में तेजी लाने में असलफ रहे.आरबीआई ने रेपो रेट में लगातार तीसरी बार 25 बेसिस प्वाइंट की कटौती की है.

घटाया जीडीपी ग्रोथ का अनुमान-

आपको बता दें कि फिच (FITCH) ने भारत के विकास दर अनुमान में 0.2 फीसदी तक की कटौती की है. इसी के साथ फिच (FITCH) ने चालू वित्त वर्ष के लिए भारत की जीडीपी ग्रोथ को 6.6 फीसदी तक रहने का अनुमान लगाया है.जबकि डेवलपमेंट बैंक ऑफ़ सिंगापुर (डीबीएस) ने वित्त वर्ष 2019-20 में भारत की सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर के अनुमान को घटाकर 6.8 प्रतिशत कर दिया है.

Leave a Reply

%d bloggers like this: