गूगल प्ले के जरिए अपनी डिजिटल सामग्री बेचने वाले को करना होगा प्ले बिलिंग का इस्तेमाल

Google play store
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

मुम्बई/नई दिल्ली, 29 सितम्बर (हि.स.). सर्च इंजन गूगल के भारतीय परिक्षेत्र के निदेशक (कारोबार विकास, गेम और एप्लिकेशंस) पूर्णिमा कोचिकर ने मंगलवार को एक आभासी संवाद में संवाददाताओं से कहा कि प्रत्येक डेवलपर जो गूगल प्ले के जरिए अपनी डिजिटल सामग्री को बेचता है, उन्हें प्ले बिलिंग का इस्तेमाल करना होगा.

कोचिकर ने कहा कि हम प्ले बिलिंग नीति को स्पष्ट कर रहे हैं, जो लंबे समय से चली आ रही है और हाल की घटनाओं से हमने महसूस किया है कि नीतियों को स्पष्ट करना और उन्हें समान रूप से लागू करना बहुत महत्वपूर्ण है. उन्होंने कहा कि डेवलपर को सितम्बर 2021 से गूगल बिलिंग प्रणाली का इस्तेमाल करना होगा, जो ऐप के जरिए किए गए भुगतान पर 30 प्रतिशत शुल्क लेता है.

कोचिकर ने स्पष्ट किया कि यदि डेवलपर कोई भौतिक वस्तु या अपनी वेबसाइट के जरिए भुगतान लेता है, तो उसे प्ले बिलिंग की जरूरत नहीं होगी. कोचिकर ने कहा कि लगभग 97 प्रतिशत डेवलपर्स इस नीति को समझते हैं और इसका पालन करते हैं. हालांकि उन्होंने उन लोगों के नाम नहीं लिये, जिन्होंने इसका पालन नहीं किया.

हिन्दुस्थान समाचार/ गोविन्द